ताज़ा ख़बर
ताजा रिपोर्ट : भारत की जीडीपी ग्रोथ में भारी कटौती, बढ़ सकता है सरकार पर कर्ज!CG BIG BREAKING : छत्तीसगढ़ में कोरोना के बाद अब ब्लैक फंगस ने दी दस्तक, 15 मरीज एम्स में भर्ती, ज्यादातर मरीजों के आंखों में इंफैक्शनबड़ी खुशखबरी : इस अक्षय तृतीया आपके खाते में आएगा 2000 रुपये, जानें कैसे मिलेगा इसका लाभ, पीएम मोदी ने योजना को दी हरी झंडीशेयर बाजार : बैंकिंग, तेल एवं बिजली में दिख रहा उछाल, अधिकतर एशियाई बाजारों में गिरावट दर्ज, एनटीपीसी 4.40 फीसदी चढ़ासाइंटिस्ट की चेतावनी, भारत में नहीं थमेगा आसानी से कोरोना, जुलाई तक थमने की संभावनाSHARE MARKET : लाल निशान पर खुला आज बाजार, सेंसेक्स में भी आई गिरावटBREAKING : पुलिस अधीक्षक ने की बड़ी कार्यवाही : महामारी के बीच ड्यूटी से गैरहाजिर रहने वाले 15 अधिकारी-कर्मचारी निलंबितEXCLUSIVE : 25 सालों में पहली बार गर्मी ने मई में दिलायी राहत, बिहार में देखे जाते रहे हैं ऐसे मौसम, जानें क्या है वजह…BIG BREAKING : केमिकल फैक्टरी में लगी भीषण आग, लगातार हो रहे बड़े धमाके, मौके पर दमकल की 10 गाड़ियांBIG BREAKING : प्रदेश के इस जिले में कल से तीन दिनों का सख्त लॉकडाउन, कलेक्टर नम्रता गांधी ने दिया आदेश

लेमरू कोरेन्टीन सेंटर में रिपोर्ट को लेकर फूटा लोगों का गुस्सा, बुलानी पड़ी पुलिस

Mahendra Kumar SahuMay 4, 20211min


 

कोरबा/लेमरू: जिले के ग्रामीणक्षेत्र लेमरू में कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आने पर काफी लोगों को सरकारी हाईस्कूल भवन में रखा गया है, जिसे क्वारंटाइन सेंटर बनाया गया है. परीक्षण रिपोर्ट को लेकर आरोप लगाते हुए कथित रूप से ग्रामीणों ने पहले इस सेंटर के बाहर और बाद में पीएचसी के सामने प्रदर्शन किया. वहीं कोरंटाइन किये गए कुछ लोगों ने कूदने का प्रयास भी किया. आनन-फानन में पुलिस के पहुंचने और समझाईश के बाद मामले को शांत कर लिया गया. स्वास्थ्य कर्मी चाहते है कि उन्हें सुरक्षा दी जाए.

 

60 किलोमीटर दूर लेमरू क्षेत्र में हुए घटनाक्रम के बारे में बताया गया कि पिछले दिनों खाने-कमाने और दूसरे प्रयोजन से बाहर गए लोग लौटकर यहां आए. स्थानीय स्तर पर इनका परीक्षण किया गया। इसमें कई लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। नियमों के अंतर्गत प्रशासन ने ऐसे लोगों को लेमरू के हाईस्कूल स्थित क्वारंटाइन सेंटर में रखा है. स्थिति ठीक होने तक इनकी देखभाल यहां की जाएगी और इन पर नजर रखी जाएगी. कई कारणों से इन पॉजिटिव मरीजों के साथ-साथ उनके परिजन नाराज हैं, ऐसा दावा किया जा रहा है। इसी बात को लेकर 3 मई को हंगामे की स्थिति बनी. पता चला कि 40 की संख्या में महिलाएं क्वारंटाइन सेंटर के बाहरी परिसर में पहुंची और हंगामा किया.

 

 

वे तर्क दे रहीं थी कि संबंधित लोग सही हैं और उन्हें बाहर निकाला जाए ताकि वे घर जा सके. हंगामा होने के साथ उन लोगों को बल मिला जिन्हें यहां पर रखा गया है. उन्होंने भी शोर मचाना शुरू कर दिया. यही नहीं दबाव बनाने के लिए कुछ लोग स्कूल की छत के हिस्से में पहुंच गए और वहां से कूदने की कवायद करने लगे. इसके बाद ग्रामीणों ने लेमरू पीएचसी पहुंचकर वहां भी प्रदर्शन किया. खबर है कि स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों के साथ उन्होंने बुरा बर्ताव किया. यह सब होने पर पुलिस को जानकारी दी गई. लेमरू पुलिस की टीम ने हाइस्कूल का रूख करने के साथ हंगामा करने वालों को समझाईश दी और नियम पालन करने को कहा. पुलिस के अंदाज को संबंधित लोगों ने एक झटके में समझ लिया और शांत हो गए. तब कहीं जाकर क्वारंटाइन सेंटर की निगरानी करने वाले कर्मचारी के साथ-साथ स्वास्थ्य विभाग के अमले ने राहत की सांस ली.

 

 

पुलिस के सहयोग से नियंत्रण लेमरू में स्वास्थ्य विभाग ने जांच के आधार पर आसपास के लोगों को अगली स्थिति तक के लिए निगरानी में रखा है। स्थानीय ग्रामीणों का कहना था कि बेमतलब उन्हें यहां लाया गया है। इसी बात पर हंगामा हुआ। पुलिस के सहयोग से स्थिति संभाल ली गई।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories