ताज़ा ख़बर
इन दो जिलों के कलेक्टरों ने शादियों पर लगाई रोक, पहले से मिली अनुमति भी होंगे निरस्त, आदेश जारीBIG BREAKING : नए स्ट्रेन मिलने के बाद बस्तर में अलर्ट, इस जिले में 16 मई तक बढ़ाई गई लॉकडाउन, कलेक्टर ने जारी किया आदेशCORONA BREAKING : प्रदेश में आज मिले 13 हजार 628 नए मरीज, 208 की मौत, देखिए जिलेवार आंकड़ेबड़ी खबर : राजधानी में चश्मा दुकानों को खोलने की मिली अनुमति, जिला प्रशासन ने जारी किया आदेशबिना पासवर्ड लॉगिन होगा गूगल अकाउंट, जल्द आ रही नई फीचर, जानें कैसी होगी नई फीचरBIG BREAKING : भूपेश सरकार ने दी किसानों को बड़ी राहत, 21 मई को किसान न्याय योजना की पहली किस्त देने का किया ऐलानयुवा कांग्रेस ने जरूरतमंद परिवारों में राशन वितरण कर पेश की मानवता की मिसालजेल में तैनात अधिकारियों की लापरवाही, मुख्य प्रहरी और तीन प्रहरी पर गिरी निलंबन की गाज, कैदियों के फरार होने के बाद गृह मंत्री साहू ने दिए थे कार्रवाई के निर्देशBIG BREAKING : अंडरवर्ल्‍ड डॉन छोटा राजन की कोरोना से मौत! लक्षण मिलने के बाद 12 दिन पहले एम्‍स में किया गया था भर्तीबड़ी खबर : कहर बनकर टूट रही महामारी, एक ही गांव के 17 लोगों की मौत, मचा हड़कंप

चेम्बर ने मुख्यमंत्री से प्रदेश को 6 मई से अनलॉक कर सीमित समय के लिये व्यापार-व्ययसाय करने की अनुमति देने के लिए किया आग्रह

Mahendra Kumar SahuMay 4, 20211min


 

बचेली,अमलेंदु चक्रवर्ती: छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड़ इंडस्ट्रीज के प्रदेश अध्यक्ष अमर पारवानी ने मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया कि प्रदेश में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार द्वारा व्यापारी वर्ग के साथ साथ आम नागरिकों को राहत पहुचाने के उद्देश्य से प्रदेश में सम्पूर्ण लॉकडाउन किया गया है, जो कि उस समय आवश्यक था। चेम्बर के साथ-साथ व्यापारीवर्ग ने भी राज्य सरकार के इस निर्णय की सराहना की है। और शासन का पूरा सहयोग किया।

 

 

 

पारवानी ने बताया कि प्रदेश में पिछले तीन चरणों को मिलाकर लगभग 1 माह सें लॉकडाउन है जिससे कि राज्य की आर्थिक गतिविधियां रूकी हुई है। व्यापारीवर्ग को आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है एवं आम नागरिक भी परेशान है। छोटे व्यापारी एवं मजदूर वर्ग तथा मध्यमवर्गीय परिवारों को इस समय कठिनाई के दौर से गुजरना पड़ रहा है। और साथ ही साथ आवश्यक वस्तुओ की सप्लाई चैन की स्थिति भी बिगढ़ते जा रही है और आवश्यक वस्तुओ की सप्लाई नहीं हो पा रही है।

 

 

 

उन्होने आगे कहा कि लॉकडाउन होने के कारण व्यापारीवर्ग को घर का खर्च, दुकान का किराया, घर एवं दुकान का बिजली बिल, दुकान के कर्मचारियों का वेतन, बैंक का ब्याज, दुकान का ईएमआई, बच्चों के स्कूल का फीस, जीएसटी एवं अन्य टैक्स का भुगतान, दवाई का खर्च एवं अन्य फुटकर खर्च के लिए पैसे की आवश्यकता होती हैं। चुंकि अभी पूर्णतः लॉकडाउन है, जिसके कारण पैसे का आवक नहीं हो रहा है। जबकि ये खर्च अति आवश्यक है।

 

 

पारवानी ने आगे कहा कि व्यापारी वर्ग अभी भी कोरोना के पहले लहर से हुए नुकसान से अभी तक नहीं उबर पाया है और ऐसे में उसे दूसरे लहर से भी काफी नुकसान हो रहा है। होटल और रेस्टोरेंट व्ययसाय वालों का तो पूरी तरह से व्यापार बंद है, ऐसे में उन्हे कम से कम टेकअवे के साथ व्ययसाय आरंभ करने दिया जाना चाहिए। इस तरह सभी व्यापार एवं व्ययसाय को देखते हुए लॉकडाउन को आगे नहीं बढ़ाना चाहिए। पूर्ण लॉकडाउन को आगे ना बढ़ाते हुए सभी व्यापार एवं व्ययसाय को सीमित समय के लिये किया जाना चाहिए। ताकि व्यापारीवर्ग के साथ-साथ आम लोगों को भी इसका लाभ मिल सकें। लॉकडाउन के चलते सभी वर्ग बहुत सी परेशानियों का समना कर रहे।

 

 

 

ऐसे में पूर्ण लॉकडाउन को और आगे नही बढ़ाना चाहिए। आपके द्वारा सभी व्यापारी एवं आम लोगों के लिए जो भी नियम बनाये जायेगें। उसका व्यापारी वर्ग एवं आम नागरिक कठोरता से पालन करेगा। ऐसे में आपसे अनुरोध है कि लॉकडाउन के निर्णय पर पुर्नविचार करते हुए सारे व्यापार को दोपहर 3 बजे तक व्यापार करने की अनुमति दी जावे, जिससे महामारी नियंत्रण के साथ साथ आर्थिक गतिविधियां भी समानांतर रूप से चलती रहें और साथ ही आम नागरिकों भी राहत मिलें। आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई वाले व्यापार एवं व्ययसाय को अनलॉक के प्रथम 2 दिन तक पूरे दिन तक व्यापार का समय दिया जाये ताकि जो सप्लाई चैन प्रभावित हुआ है वह सामान्य हो सकें। जिसके बाद तीसरे दिन से अन्य व्यापार एवं व्ययसाय की तरह सभी को 3 बजे तक व्यापार करने दिया जाये।

 

 

पारवानी ने माननीय मुख्यमंत्री जी अनुरोध करते हुए कहा कि प्रदेश में 06.05.2021 से पूर्णतः लॉकडाउन को हटाकर सीमित समय के लिये व्यापार एवं व्ययसाय करने की अनुमति देने की कृपा करेगें। हम व्यापारीवर्ग कोरोना काल के विकट एवं विपरित परिस्थितियों में शासन द्वारा जारी सभी नियमों एवं दिशा निर्देशों का पूरा पालन करते हुए, व्यापारीयों ने आम नागरिकों को राहत पहुचाने के उद्देश्य आगामी दिनों में भी कोरोना रोकथाम हेतु जो भी निर्णय लिया जावेगा उसका पूरा पालन व्यापारी वर्ग द्वारा किया जावेगा, साथ ही करोना महामारी रोकथाम रोकने हेतु जो भी जनजागरण अभियान शासन-प्रशासन द्वारा चलाया जायेगा उसमें व्यापारी वर्ग शासन के साथ कंधे से कंधा मिलाकर कार्य करेगा।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories