ताज़ा ख़बर
CORONA BREAKING : प्रदेश में थमी कोरोना की रफ्तार, आज मिले 813 नए मरीज, 11 लोगों की मौत, देखिए जिलेवार आंकड़ेBIG BREAKING: राजधानी में सूने मकान में नकबजनी करने वाला आरोपी गिरफ्तार, पंजाब भागने कि फिराक में था आरोपी, सोने सहित डायमंड के ज़ेवरात जप्तसोने में निवेश के लिए अच्छा समय! बाजार में अभी कम है दाम, लेकिन 4-5 महीने में हो जाएंगे मालामालजंगलों पर ग्रामीणों का अतिक्रमण, वन विभाग ने 44 लोगों को लिया हिरासत में, दो टैक्ट्रर ट्राली को किया जब्तRAIPUR BREAKING: राजधानी में युवक की चाकू मारकर हत्या, पॉकेटमारी के दौरान हुई वारदातकांग्रेस प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया का दो दिवसीय छत्तीसगढ़ दौरा, कार्यकर्ताओं के प्रशिक्षण कार्यक्रम में लेंगे भागये कैसा नक्शा! पाकिस्तान, बांग्लादेश को भी बताया भारत का हिस्सा, सियासी गलियारों पर मचा बवालबड़ी खबर: अब तक का सबसे बड़ा ONLINE FRAUD, राजधानी में रिटायर्ड इंजीनियर हुए शिकार, 3 बैंक खातों से जीवन भर की पूंजी उड़ा ले गया ठगRAIPUR: शादीशुदा महिला को नशीली दवाई पिलाकर किया बलात्कार, जान से मारने की भी दी धमकी, आरोपी गिरफ़्तारGANGRAPE: रायपुर में एक और मामला आया सामने, 15 वर्षीय नाबालिग को चावल दिलाने के बहाने सुनसान जगह ले जाकर किया सामूहिक बलात्कार, 2 आरोपी गिरफ़्तार

सीएम भूपेश ने कोरोना महामारी पर नियंत्रण के लिए राज्य भर के चिकित्सा विशेषज्ञों से की चर्चा, कहा-अस्पताल अपने संसाधनों का बेहतर उपयोग कर मरीजों का तत्परता से करें इलाज

Deepak SahuApril 30, 20211min

 

 

 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chief Minister Bhupesh Baghel)ने आज राजधानी स्थित अपने निवास कार्यालय में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से राज्य में कोरोना महामारी से बचाव और नियंत्रण के संबंध में चिकित्सा विशेषज्ञों से चर्चा कर महत्वपूर्ण सुझाव लिए। उन्होंने चर्चा करते हुए स्वास्थ्य और चिकित्सा से जुड़े सभी लोगों को कोरोना महामारी की इस लड़ाई में महत्वपूर्ण फ्रंटलाइन वर्कर्स बताया।

 

 

उन्होंने इसमें शासकीय अस्पतालों के साथ-साथ निजी चिकित्सा संस्थानों से शासन को मिल रहे सहयोग की भी भरपूर सराहना की। इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव तथा अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू, अपर मुख्य सचिव रेणु जी. पिल्ले, मुख्यमंत्री के सचिव सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी और संचालक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण नीरज बंसोड उपस्थित थे।

 

 

उन्होंने कहा कि वर्तमान में पूरी दुनिया कोविड-19 से संघर्षरत है। ऐसे हालात और संकट की घड़ी में मानवता की सारी उम्मीदें हमारे स्वास्थ्य और चिकित्सा से जुड़े हुए लोगों पर टिकी हुई है। इनमें निजी अस्पतालों का निजी डॉक्टरों की सेवा भी काफी प्रशंसनीय है।

 

इनके द्वारा अस्पतालों में सीमित उपकरणों और संसाधनों के बावजूद कोरोना की इस लड़ाई को लगातार जारी रखे हुए हैं। मुख्यमंत्री बघेल ने बताया कि छत्तीसगढ़ में अभी कोविड-19 की दूसरी लहर चल रही है और हम अपने संसाधनों और अपनी व्यवस्थाओं के साथ उसका पुरजोर मुकाबला भी कर रहे हैं। इसके तहत राज्य में स्वास्थ्य सुविधाओं का तेजी से विस्तार किया जा रहा है, ताकि मरीजों को तत्परता से इलाज सुविधाओं का भरपूर लाभ मिले।

 

 

मुख्यमंत्री बघेल ने विशेषज्ञ चिकित्सकों से चर्चा करते हुए उन्हें अपने-अपने संस्थान में उपलब्ध संसाधनों का बेहतर से बेहतर उपयोग कर मरीजों को सुगमता से इलाज सुविधा का लाभ दिलाने के लिए कहा। इनमें आवश्यक चिकित्सा उपकरणों को बढ़ाने सहित आॅक्सीजन प्लाण्ट आदि सुविधाओं के लिए भी आवश्यक पहल करने के संबंध में जोर दिया। मुख्यमंत्री बघेल ने चिकित्सा संस्थानों की मांग पर वहां आवश्यक चिकित्सकीय सुविधाओं में बढ़ोत्तरी सहित प्रशिक्षित स्टाफ की व्यवस्था आदि के संबंध में शासन की ओर से हर संभव सहयोग का आश्वासन दिया। इसके लिए उन्होंने अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य और अपर मुख्य सचिव गृह को शीघ्र आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

 

इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने कहा कि राज्य में कोरोना संक्रमण से बचाव तथा रोकथाम के लिए मुख्यमंत्री बघेल द्वारा समाज के विभिन्न वर्ग के लोगों के साथ लगातार चर्चा कर समीक्षा की जा रही है। इस कड़ी में आज राज्य भर के 24 निजी चिकित्सा संस्थानों के विशेषज्ञ चिकित्सकों से चर्चा हुई और उनसे महत्वपूर्ण सुझाव आए हैं।

 

 

 

READ MORE: Flipkart की इस सेल में स्मार्टफोन से लेकर स्मार्ट वॉच तक मिलेगा 80% का बम्पर डिस्काउंट, जानें इस शानदार ऑफर की डिटेल्स

 

 

उन्होंने सभी विशेषज्ञ चिकित्सकों अपने-अपने संस्थान में चिकित्सा सुविधाओं में और बढ़ोत्तरी के लिए विशेष रूप से आग्रह किया। इस दौरान एम्स रायपुर से डॉ. नितिन एम. नागरकर ने चर्चा में भाग लेते हुए वैक्सीनेशन सहित आईसीयू तथा वेन्टीलेटर जैसे चिकित्सकीय सुविधाओं को बढ़ाने के लिए कहा। इसी तरह मेकाहारा से डॉक्टर ओ.पी. सुन्दरानी, बिलासपुर से डॉ. आर.पी. मिश्रा, डॉ. अमित सोनी, डॉ. देवेश, डॉ. रवि शेखर, रायगढ़ से डॉ. सुभाष, डॉ. मनोज कुमार तथा दुर्ग से डॉ. प्रतिक कौशिक, डॉ. आशीष मित्तल, डॉ. ए.पी. सावंत, अंबिकापुर से डॉ. अभिषेक वाजपेयी, धमतरी से डॉ. सूरज गुप्ता, डॉ. संदीप पटोदा, बाल्को से डॉ. एस. वेंकट कुमार, बालाजी हॉस्पिटल रायपुर से डॉ. देवेन्द्र नायक, श्री मेडीसाइन हॉस्पिटल से डॉ. सुशील शर्मा और डॉ. शैलेन्द्र उपाध्याय, डॉ. नवीन शर्मा, डॉ. सुनील खेमका तथा श्री राम कृष्ण केयर हॉस्पिटल से डॉ. संदीप दवे आदि विशेषज्ञ चिकित्सकों ने चर्चा में भाग लेकर अपना महत्वपूर्ण सुझाव दिए।

 

 

 


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories