ताज़ा ख़बर
CORONA BREAKING : प्रदेश में थमी कोरोना की रफ्तार, आज मिले 813 नए मरीज, 11 लोगों की मौत, देखिए जिलेवार आंकड़ेBIG BREAKING: राजधानी में सूने मकान में नकबजनी करने वाला आरोपी गिरफ्तार, पंजाब भागने कि फिराक में था आरोपी, सोने सहित डायमंड के ज़ेवरात जप्तसोने में निवेश के लिए अच्छा समय! बाजार में अभी कम है दाम, लेकिन 4-5 महीने में हो जाएंगे मालामालजंगलों पर ग्रामीणों का अतिक्रमण, वन विभाग ने 44 लोगों को लिया हिरासत में, दो टैक्ट्रर ट्राली को किया जब्तRAIPUR BREAKING: राजधानी में युवक की चाकू मारकर हत्या, पॉकेटमारी के दौरान हुई वारदातकांग्रेस प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया का दो दिवसीय छत्तीसगढ़ दौरा, कार्यकर्ताओं के प्रशिक्षण कार्यक्रम में लेंगे भागये कैसा नक्शा! पाकिस्तान, बांग्लादेश को भी बताया भारत का हिस्सा, सियासी गलियारों पर मचा बवालबड़ी खबर: अब तक का सबसे बड़ा ONLINE FRAUD, राजधानी में रिटायर्ड इंजीनियर हुए शिकार, 3 बैंक खातों से जीवन भर की पूंजी उड़ा ले गया ठगRAIPUR: शादीशुदा महिला को नशीली दवाई पिलाकर किया बलात्कार, जान से मारने की भी दी धमकी, आरोपी गिरफ़्तारGANGRAPE: रायपुर में एक और मामला आया सामने, 15 वर्षीय नाबालिग को चावल दिलाने के बहाने सुनसान जगह ले जाकर किया सामूहिक बलात्कार, 2 आरोपी गिरफ़्तार

राजधानी में एक सप्ताह के लिए और बढ़ सकता है लाॅकडाउन, सरकार कर रही विचार

Mahendra Kumar SahuApril 25, 20211min


 

नईदिल्लीः देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। आए यहां कई हजारों मरीजों की पुष्टि हो रही है। वहीं मौतों का आंकड़ा में भी तेजी से इजाफा हो रहा है। दिल्ली में हालात चिंताजनक बनी हुई है, ऐसे में केजरीवाल सरकार लाॅकडाउन (lockdown) को एक हफ्ते और बढ़ाने का विचार कर रही है। वहीं 70 फीसदी कारोबारी लाॅकडाउन (lockdown) को आगे बढ़ाने के विस्तार दिए जानें के पक्ष में है। फिलहाल, दिल्ली सरकार राजधानी में 6 दिनों का लाॅकडाउन (lockdown) लगाया है। जों 26 अप्रैल सुबह तक जारी रहेगा। दिल्ली में कोरोना संक्रमण की दर 36 फीसदी तक पहुंच गई है। यही वजह है कि सरकार एक सप्ताह के लिए और लॉकडाउन की अवधि को बढ़ा सकती है।

 

 

सरकार के एक सीनियर अधिकारी ने कहा कि दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) द्वारा रविवार को लॉकडाउन के बढ़ाने को लेकर एक आदेश जारी किया जाएगा। कोरोना मामलों में अचानक तेजी, अधिक संक्रमण दर और ऑक्सीजन संकट की वजह से यह फैसला लिया गया है। बड़ी संख्या में मरीजों के अस्पताल में भर्ती होने और ऑक्सीजन को लेकर हाहाकार मचा हुआ है। ऐसी स्थिति में अगर लॉकडाउन को हटा दिया जाता है, तो एक गंभीर कानून-व्यवस्था की स्थिति हो सकती है।

 

 

राजधानी में कोरोना वायरस के मामलों में बढ़ोतरी का हवाला देते हुए निवासियों के कल्याण संघों (आरडब्ल्यूए) और व्यापारियों के संघों ने शनिवार को प्रतिबंधों के विस्तार की मांग की। बता दें कि 19 अप्रैल को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 6 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की थी। आज उसकी मियाद पूरी हो रही है, ऐसे में माना जा रहा है कि आज और एक सप्ताह के लॉकाडाउन का फिर ऐलान हो सकता है।

 

 

यूनाइटेड रेसीडेंट ऑफ दिल्ली के जेनरल सेक्रेटरी सौरभ गांधी ने कहा कि हम मांग कर रहे हैं कि कम से कम 14 दिनों के लिए लॉकडाउन लगाया जाए। दिल्ली में हर दिन कम से कम 25,000 रोजोना कोरोना केस आ रहे हैं, जबकि

 

परीक्षणों की संख्या में कमी आ रही है। ऑक्सीजन के लिए जिस तरह का संकट है, ऐसी स्थिति में कोई भी आर्थिक गतिविधियों को खोलने की कल्पना भी नहीं कर सकता है।

 

 

कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) एक बयान में कहा कि शहर भर के 100 से अधिक प्रमुख संगठनों ने 26 अप्रैल से 2 मई तक दिल्ली के बाजारों के ष्वॉल्यूंटरी सेल्फ लॉकडाउनष् का करने का निर्णय लिया है। बता दें कि सीएम अरविंद केजरीवाल ने पिछले सोमवार को उपराज्यपाल अनिल बैजल से मीटिंग के बाद लॉकडाउन का फैसला लिया था। सीएम ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा था कि सोमवार रात को 10 बजे से अगले सोमवार को सुबह 5 बजे तक 6 दिन के लिए दिल्ली में लॉकडाउन लगाया जा रहा है। इस दौरान आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी, मेडिकल व्यवस्थाओं की, खाने-पीने की सेवाएं जारी रहेंगी। शादियां भी होंगी, पर 50 लोगों के साथ, उसके लिए अलग से पास दिए जाएंगे।

 

 

68 फीसदी लॉकडाउन के पक्ष में


 

दिल्ली में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। ऐसे में वहां के 68 फीसदी बाशिंदे क्षेत्र में लागू लॉकडाउन की अवधि कम से कम एक हफ्ते बढ़ाने के पक्षधर हैं। सिर्फ नौ प्रतिशत को लगता है कि राष्ट्रीय राजधानी में प्रभावी लॉकडाउन समेत सभी पाबंदियां 26 अप्रैल के बाद हटा देनी चाहिए। ‘लोकलसर्किल’ का हालिया सर्वे तो कुछ यही बयां करता है।

 

 

दिल्ली में कोरोना के हालात


 

दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के शुक्रवार को 24331 नए मामले सामने आए और एक दिन में अब तक सर्वाधिक 348 लोगों की मौत हो गई। संक्रमण दर में हालांकि कुछ कमी आई है। शुक्रवार को संक्रमित पाए जाने की दर 32.43 प्रतिशत है। यह दर कल 36 प्रतिशत से ज्यादा हो गई थी।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories