ताज़ा ख़बर
इन दो जिलों के कलेक्टरों ने शादियों पर लगाई रोक, पहले से मिली अनुमति भी होंगे निरस्त, आदेश जारीBIG BREAKING : नए स्ट्रेन मिलने के बाद बस्तर में अलर्ट, इस जिले में 16 मई तक बढ़ाई गई लॉकडाउन, कलेक्टर ने जारी किया आदेशCORONA BREAKING : प्रदेश में आज मिले 13 हजार 628 नए मरीज, 208 की मौत, देखिए जिलेवार आंकड़ेबड़ी खबर : राजधानी में चश्मा दुकानों को खोलने की मिली अनुमति, जिला प्रशासन ने जारी किया आदेशबिना पासवर्ड लॉगिन होगा गूगल अकाउंट, जल्द आ रही नई फीचर, जानें कैसी होगी नई फीचरBIG BREAKING : भूपेश सरकार ने दी किसानों को बड़ी राहत, 21 मई को किसान न्याय योजना की पहली किस्त देने का किया ऐलानयुवा कांग्रेस ने जरूरतमंद परिवारों में राशन वितरण कर पेश की मानवता की मिसालजेल में तैनात अधिकारियों की लापरवाही, मुख्य प्रहरी और तीन प्रहरी पर गिरी निलंबन की गाज, कैदियों के फरार होने के बाद गृह मंत्री साहू ने दिए थे कार्रवाई के निर्देशBIG BREAKING : अंडरवर्ल्‍ड डॉन छोटा राजन की कोरोना से मौत! लक्षण मिलने के बाद 12 दिन पहले एम्‍स में किया गया था भर्तीबड़ी खबर : कहर बनकर टूट रही महामारी, एक ही गांव के 17 लोगों की मौत, मचा हड़कंप

नहीं रहे ‘महाभारत’ के ‘इंद्रदेव’ सतीश कौल, कभी बड़े अभिनेताओं के साथ किया था काम

Mahendra Kumar SahuApril 11, 20211min


 

नईदिल्ली: बीआर चोपड़ा की ‘महाभारत’ में ‘इंद्रदेव’ का किरदार निभाने वाले दिग्गज कलाकार सतीश कौल का निधन हो गया। मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि वो आर्थिक तंगी का सामना कर रहे थे और उनकी मौत कोरोना के कारण हुई है। 73 वर्षीय सतीश कौल ने बीते शनिवार को कोरोना जूझते हुए आखिरी सांस ली। वहीं ‘महाभारत’ में ही सतीश कौल के साथ काम कर चुके अभिनेता गजेंद्र चौहान ने उनके निधन पर शोक जाहिर किया है। उन्होंने एक इंटरव्यू के दौरान कहा है कि उनसे हम सभी को सबक लेना चाहिए।

 

 

सुपरस्टार होकर जीनी पड़ी गुमनामी की जिंदगी


 

गजेंद्र चौहान ने ‘महाभारत’ में ‘युधिष्ठिर’ का किरदार निभाया था। वहीं सतीश कौल के निधन की खबर को उन्होंने बहुत बड़ा लॉस बताया है। गजेंद्र ने बताया कि सतीश इतने बड़े स्टार रह चुके हैं, वो पंजाबी सिनेमा के तो सुपरस्टार थे और लगभग 300 फिल्मों में काम कर चुके थे लेकिन फिर भी पिछले कई सालों से गुमनामी की जिंदगी जीने को मजबूर थे। गजेंद्र का कहना है कि शिर्डी स्थित साईं मंदिर या पटियाला के किसी अस्पताल से जब-कब सामने आईं तस्वीरों से उनके बारे में पता चलता रहता था।

 

 

गजेंद्र चौहान ने बताया सबक


 

गजेंद्र ने इस इंटरव्यू के दौरान कहा कि सतीश कौल ने अपनी जिंदगी में जबरदस्त पैसा और ग्लैमर देखा लेकिन उम्र के दूसरे पड़ाव और अंतिम समय में उनका किसी ने साथ नहीं दिया, वो बेहद स्वाभिमानी थे इसीलिए उन्होंने किसी से मदद नहीं मांगी। गजेंद्र ने कहा सतीश जी का निधन हम सब के लिए एक सबक है कि हर व्यवसाय से जड़े लोगों को अपना अच्छा समय भविष्य के लिए बचा कर रखना चाहिए। उनका कहना है कि बुरे वक्त के लिए पैसों की बचत जरूर करनी चाहिए क्योंकि आर्थिक और पारिवारिक अभाव इंसान को खोखला कर देता है।

 

 

CINTAA की मदद पर बोले


 

CINTAA की मदद के सवाल पर गजेंद्र का कहना है कि कोई भी फेडरेशन या एसोसिएशन किसी की बाप-बार मदद नहीं सकता है। उनका मानना है कि जिस इंडस्ट्री से वो जुड़े हैं, उसमें जबरदस्त उतार-चढ़ाव आते हैं। किसी के लिए दिन एक जैसा नहीं रहता।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories