ताज़ा ख़बर
CORONA BREAKING : प्रदेश में कोरोना का कहर जारी, आज मिले में 10 हजार से ज्यादा नए मरीज, 82 लोगों ने तोड़ा दमBIG BREAKING : गरियाबंद में लगा 10 दिनों का लॉकडाउन, इन जिलों में भी कुछ देर में जारी होगा आदेशBIG BREAKING : बिलासपुर में 8 दिनों के लिए लॉकडाउन का ऐलान, आवश्क सेवाओं को छोड़कर बाकी सभी दुकानें रहेंगी बंदBIG BREAKING: RSS का पूर्व प्रचारक निकला हवस का पुजारी, 13 साल के बच्चे से कराता था ये कामCG BREAKING : अब इस जिले में लॉकडाउन लगाने की तैयारी, कुछ देर में जारी होगा आदेशBREAKING : प्रदेश में जल्द लग सकता है सम्पूर्ण लॉकडाउन, आज की बैठक में सीएम लेंगे फैसलाIPL 2021: ऋषभ पंत ने धोनी को भी छोड़ा पिछे, कप्तानी के सफर का किया आगाजCORONA BREAKING : प्रदेश में कोरोना ने तोड़े सभी रिकार्ड, आज मिले 14 हजार से ज्यादा नए मरीज, 97 लोगों ने तोड़ा दमइस कंपनी ने अपने ग्राहकों को दिया बड़ा तोहफा, 398 रुपये वाले प्लान में किया बदलाव, अब इतने दिनों तक उठा सकते है लाभछत्तीसगढ़ में कोरोना से निपटने अब तक 850 करोड़ आवंटित, सीएम बघेल ने कहा- नहीं होने देंगे संसाधनों की कमी

हौसले को सलाम : जलते अस्पताल में होती रही मरीज की सर्जरी, डॉक्टरों ने जान पर खेलकर हार्ट पेशेंट को बचाया, देखें वीडियो…

Som dewanganApril 3, 20211min


 

रूस: वैसे तो डॉक्टरों को भवगवान का अवतार माना जाता है। वो डॉक्टर ही होते है जो 24 घंटा मरीजों की सेवा के लिए उपलब्ध रहते है। डॉक्टर खुद की जान को जाखिम में डालकर मरीजों की जान बचाते है। ऐसा ही एक मामला रूस से सामने आया है। जहां एक पुराने अस्पताल में आग लग गई थी। लेकिन डॉक्टर अपना हौसला बढ़ाते हुए आग की चिंता किए बिना डॉक्टर एक मरीज की हार्ट सर्जरी करते रहे।

 

 

घटना रूस के ब्लागोव्सचेंस्क शहर के एक अस्पताल की है। यहां शुक्रवार को आग लग गई। आग इतना भयानक था कि लपेटे उपर उठने लगे, इस दौरान अस्पताल के अंदर में आठ डॉक्टरों की टीम ऑपरेशन थिएटर में एक मरीज की हार्ट सर्जरी कर रही थी। जहां एक तरफ अस्पताल की बिल्डिंग से जबरदस्त धुंआ उठ रहा था तो वहीं डॉक्टरों की टीम ने अपनी जान की परवाह किए बिना सर्जरी जारी रखी।

 

जलते हुए अस्पताल में दो घंटे में पूरी हुई सर्जरी


 

इस दौरान ऑपरेशन थिएटर में धुंआ रोकने के लिए पंखों का भी इस्तेमाल किया गया। दमकलकर्मियों को अस्पताल में लगी आग को बुझाने में दो घंटे का समय लगा। इतनी ही अवधि के दौरान डॉक्टरों ने भी मरीज की सफल ओपन हार्ट सर्जरी पूरी की।

 

 

वहीं जलते हुए अस्पताल में मरीज की सर्जरी करने वाले एक डॉक्टर वैलेन्टिन फिलाटोव ने कहा कि, हमारे पास और कोई ऑप्शन नहीं था और हमें मरीज की जिंदगी बचानी ही थी। उन्होंने बताया कि ये हर्ट-बायपास ऑपरेशन था। सफल सर्जरी किए जाने के बाद मरीज को दूसरे अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया था।

 

लकड़ी की छत पर लगी थी आग


 

वहीं आपात स्थिति मंत्रालय ने कहा कि छत पर आग लगने के बाद 128 लोगों को तुरंत अस्पताल से निकाला गया। मंत्रालय ने ये भी बताया कि जिस क्लिनिक में आग लगी थी वह बेहद पुराना बिल्डिंग है। उसे 1907 में बनाया गया था। मंत्रालय ने कहा कि आग लकड़ी की छत से बिजली की तरह फैल गई थी। फिलहाल किसी के घायल होने की कोई सूचना नहीं है। वहीं स्थाननीय क्षेत्रीय गवर्नल वासिल ओलोर्व ने मैडिक्स और फायरफाइटर्स को उनकी बहादुरी के लिए सलाम किया है।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories