ताज़ा ख़बर
RAIPUR BREAKING : सिरफिरे युवक ने 7 गाड़ियों को किया आग के हवाले, CCTV कैमरे में कैद हुई वारदातहैंड सैनिटाइजर से बच्चों को बड़ा खतरा, जा सकती है आंखों की रोशनी, और भी हो सकते है ये नुकसानBIG BREAKING : नगरीय निकायों में बड़े पैमाने पर फेरबदल, कई अधिकारी- कर्मचारी इधर से उधर, आदेश जारीराम मंदिर के निर्माण के लिए शहर के युवाओं में दिखा जोश, हजारों की संख्या में विहिप ने निकाली बाइक रैलीशासकीय पूर्व माध्यमिक शाला मड़ियाकटटा में कोरोना काल में भी हरा भरा है स्कूल परिसर, प्रधान पाठक दयालूराम पिकेश्वर खुद कर रहे देखभालअगर आप iPhone खरीदना चाहते है तो ये खबर जरूर पढ़ें, यहां 16 हजार का मिल रहा बंफर छूटबड़ी खबर: मार्च के बाद नहीं चलेंगे पुराने 100, 10 और 5 रुपए के नोट, जानिये क्या होगा अब, RBI ने दी जानकारीBREAKING: सीएम भूपेश का बड़ा ऐलान, छत्तीसगढ़ राज्य पुलिस अकादमी का नाम अब नेताजी सुभाष चंद्र बोससीएम भूपेश आज कृषि महाविद्यालय के बायोटेक इन्क्यूबेशन सेंटर का करेंगे शुभारंभ, युवाओं के लिए रोजगार के अवसर होंगे उपलब्धRAIPUR BREAKING: सिरफिरे प्रेमी ने प्रेमिका का गला रेतकर की हत्या, फिर 1 वर्षीय मासूम को पटरी पर फेंक उतारा मौत के घाट

16 खंबा मंदिर का निरीक्षण करने स्कूटी से पहुंचीं जिपं अध्यक्ष

Sanjay sahuJanuary 14, 20211min

 

 

 

दंतेवाडा। मंदिरों को नगरी बारसूर पहुचीं जिला पंचायत अध्यक्ष ने मावलीगुड़ा स्थित 16 खम्भा मंदिर व कलमभाटा के सूर्यमंदिर का स्कूटी से निरीक्षण किया। देखरेख के अभाव में इस मंदिर की हालत जर्जर हो चुकी है। 16 खम्भा मंदिर जाने रोड़ नहीं है, जिससे आम पर्यटक इस मंदिर का दर्शन नहीं कर पाते। उल्लेखनीय है कि बारसूर में 15 जनवरी से खेल महोत्सव का आयोजन होना है, जिसकी तैयारियों का जायजा लेने ही तुलिका बारसूर पहुँची थी।

 

जिपं अध्यक्ष ने बताया कि हमारे स्थानीय कार्यकतार्ओं ने ही मुझे इस मंदिर की जानकारी दी। मंदिर पहुँचने सड़क नहीं है, जिसके कारण यहाँ पहुँचना थोड़ा मुश्किल है। 16 खम्भा मंदिर भव्य था पर अब इसकी स्थिति अत्यंत दयनीय है। दोनों मंदिरों की मरम्मत व संधारण के लिए जल्द ही पुरातत्व विभाग को पत्र लिखेंगे साथ ही सड़क, बिजली, पानी हेतु प्रशासन का सहयोग लेंगे।

 

 

 

जिपं अध्यक्ष ने आगे बताया कि कलमभाटा के सूर्यमंदिर भी देखरेख के अभाव में पूरी तरह जर्जर हो चुकी है। नियमित साफ सफाई नहीं होने के कारण झाड़ियों से यह मंदिर ढक चुका है। मंदिर की मूर्ति को मंदिर से बाहर निकाल कर रख दिया गया है, जिससे उसके चोरी होने का भय बना हुआ है। निरीक्षण के दौरान सलीम रजा उस्मानी, अमोलकर नाग, मनीष भटाचार्य, पुरुषोत्तम यादव, आकाश विश्वास समेत अन्य उपस्थित थे।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories