ताज़ा ख़बर
RAIPUR BREAKING: खड़ी ट्रक से 4 लाख का माल चोरी,हिंदुस्तान यूनिलीवर के ट्रक ड्राइवर ने दर्ज करवाई रिपोर्टBIG BREAKING : बर्खास्त आरक्षक की निर्मम हत्या, घर पर सोते समय अज्ञात हमलावारों ने घटना को दिया अंजामअंकिता लोखंडे ने हाथों में लगाई मेहंदी, फोटोज ने सोशल मीडिया पर मचाई धूम, फैंस ने उठाये सवालBIG BREAKING : तेज रफ्तार ट्रेलर ने यात्रियों से भरी जीप को मारी जोरदार टक्कर, 8 लोगों की दर्दनाक मौत, चार अन्य गंभीर रूप से घायलबड़ी खबर : 50 करोड़ FB यूजर्स का फोन नंबर टेलीग्राम पर बेचे जा रहे हैं, जानिए क्या है पूरा मामलाबड़ी खबर : इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर का बड़ा दावा, ये खिलाड़ी तोड़ सकता है सचिन तेंदुलकर के सर्वाधिक टेस्ट रनों का रिकॉर्डसीएम भूपेश बघेल का कोंडागांव-कांकेर दौरा, करोड़ों के विकास कार्यों की देंगे सौगातबड़ी खबर : दो दर्जन नक्सलियों ने छोड़ा लाल आतंक का साथ, लौटे मुख्यधारा में, SP के सामने किया सरेंडरशादी के 5 साल बाद पति ने पत्नी से बोला, मुझे तुम्हारी सूरत पसंद नहीं है, बाइक और दो लाख रुपए लाओगी, तभी घर में रखूंगाRAIPUR: 258 करोड़ के GST चोरी में 2 गिरफ्तार, फेक बिल के रैकेट का का भी खुलासा, GST इंटेलीजेंस 3 माह से कर थे जांच

भाजपा ने धान खरीदी केन्द्रो का किया निरीक्षण, प्रदेश सरकार पर लगाए आरोप

Mahendra Kumar SahuJanuary 13, 20211min


विष्णु कसेरा, सूरजपुर : भारतीय जनता पार्टी सूरजपुर शहर व ग्रामीण मंडल द्वारा सूरजपुर नगर के धान खरीदी केंद्र का निरीक्षण किया गया। इसके साथ ही चौपाल लगाकर किसानों से धान खरीदी में हो रही परेशानी के संबंध में चर्चा की। कार्यक्रम में प्रदेश कार्यसमिति सदस्य भीमसेन अग्रवाल ने किसानों से धान खरीदी का हाल जाना किसानों ने बताया कि उन्हें बारदाना उपलब्ध नहीं कराया जा रहा है एवं जो बारदाना दिया जा रहा है वह बहुत ही घटिया स्तर के सड़े हुए बारदाने है। जिससे किसानों को धान बिक्री करने में अतिरिक्त मेहनत और समय लगाना पड़ रहा है।

किसानों के अंदर पिछले वर्ष की बकाया राशि को लेकर भी काफी असंतोष देखने को मिला एवं बारदाने की कमी के कारण किसानों के धान का टोकन दिनांक को भी वजन नहीं होने से ठंड के समय में धान का पहरा करने हेतु मंडी में ही रुकना पड़ रहा है, जिसके कारण किसान भाइयों को बहुत ही परेशानी का सामना करना पड़ रहा है एवं धान में प्रति बोरी 500 ग्राम अधिक धान लेने से किसानों को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है।

भीमसेन अग्रवाल ने कहा कि जिन किसानों के टोकन पहले से कटे हुए हैं वह अपना धान टोकन दिनांक को लेकर आने के बाद उनके टोकन केंसिल कर दिए जा रहे हैं जिससे किसानों को जबरन आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है एवं काफी निराश हो रहे हैं किसान ,किसान टोकन के लिए मंडियों के चक्कर लगाने को मजबुर है,पहले खरीदी एक नवंबर की जगह एक दिसंबर एक माह लेट की गई उसके बाद बारदाने की कोई व्यवस्था नही की गई ,अब टोकन केंसिल करके किसानों को प्रताड़ित किया जा रहा है कुल मिलाकर राज्यसरकार किसानों की उपज लेना ही नही चाहती है।

न ही पिछला बकाया एक क़िस्त दी, ना ही नई खरीदी के भुगतान की कोई बात की जा रही

 

राज्य सरकार ने ना तो पिछला बकाया एक क़िस्त दी, ना ही नई खरीदी के भुगतान की कोई बात की जा रही, घोषणा पत्र में पिछले 2 वर्षों का बोनस देने की बात कही गई थी, जिसका ये सरकार जिक्र तक नही कर रही है, सरकार के स्वाथ्य मंत्री टी एस सिंहदेव ने ये बयान दिया था कि अगर नई खरीदी से पहले पिछला पैसा नही दिया गया तो वो इस्तीफा दे देंगे परन्तु इनकी कथनी और करनी आपके सामने है ।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories