ताज़ा ख़बर
तुहंर सरकार, तुहंर द्वार अभियान शुरू: पार्षदों के साथ महापौर ने निकाली साइकिल रैली, 35 दिन तक नहीं चलेगी निगम की 200 गाड़ियांRAIPUR BREAKING: खड़ी ट्रक से 4 लाख का माल चोरी,हिंदुस्तान यूनिलीवर के ट्रक ड्राइवर ने दर्ज करवाई रिपोर्टBIG BREAKING : बर्खास्त आरक्षक की निर्मम हत्या, घर पर सोते समय अज्ञात हमलावारों ने घटना को दिया अंजामअंकिता लोखंडे ने हाथों में लगाई मेहंदी, फोटोज ने सोशल मीडिया पर मचाई धूम, फैंस ने उठाये सवालBIG BREAKING : तेज रफ्तार ट्रेलर ने यात्रियों से भरी जीप को मारी जोरदार टक्कर, 8 लोगों की दर्दनाक मौत, चार अन्य गंभीर रूप से घायलबड़ी खबर : 50 करोड़ FB यूजर्स का फोन नंबर टेलीग्राम पर बेचे जा रहे हैं, जानिए क्या है पूरा मामलाबड़ी खबर : इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर का बड़ा दावा, ये खिलाड़ी तोड़ सकता है सचिन तेंदुलकर के सर्वाधिक टेस्ट रनों का रिकॉर्डसीएम भूपेश बघेल का कोंडागांव-कांकेर दौरा, करोड़ों के विकास कार्यों की देंगे सौगातबड़ी खबर : दो दर्जन नक्सलियों ने छोड़ा लाल आतंक का साथ, लौटे मुख्यधारा में, SP के सामने किया सरेंडरशादी के 5 साल बाद पति ने पत्नी से बोला, मुझे तुम्हारी सूरत पसंद नहीं है, बाइक और दो लाख रुपए लाओगी, तभी घर में रखूंगा

भारतीय वायुसेना में शामिल होंगे 83 एडवांस तेजस विमान, केंद्र सरकार ने दी मंजूरी

Mahendra Kumar SahuJanuary 13, 20211min


 

नई दिल्ली : भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) के बेड़े में जल्द ही 83 एडवांस तेजस विमान शामिल होंगे। सुरक्षा मामलों की कैबिनेट समिति (Cabinet Committee on Security, CCS) ने बुधवार को वायुसेना में 83 हल्के तेजस लड़ाकू विमानों की एंट्री का रास्ता साफ कर दिया। प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में CCS ने डील को मंजूरी दी है। डील पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बयान दिया है। उन्होंने कहा कि वायुसेना की मजबूती के लिए ये फैसला लिया गया है। राजनाथ सिंह ने कहा कि ये डील रक्षा क्षेत्र में गेमचेंजर साबित होगी।

READ MORE : BIG BREAKING : जगन्नाथ वर्मा होंगे रायपुर के नए डिप्टी कलेक्टर, राज्य प्रशासनिक सेवा के तीन अधिकारियों का तबादला

रक्षा मंत्री ने ट्वीट कर इसकी जानकारी देते हुए बताया कि प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता वाली CCS ने आज ऐतिहासिक रूप से सबसे बड़ी स्वदेशी रक्षा डील अनुमोदित कर दी है। ये डील 48 हजार करोड़ रुपए की है। इससे हमारी वायुसेना के बेड़े की ताकत स्वदेशी LCA तेजस के जरिए मजबूत होगी। उन्होंने कहा कि भारत की डिफेंस मैन्यूफैक्चरिंग के लिए ये डील गेम चेंजर साबित होगी।

READ MORE :खास खबर : “हरियाली दीदी” 8 सालों से घर की छत पर उगा रही फल और सब्जियां, जैविक खेती को दे रही बढ़ावा

सिंह ने आगे लिखा कि तेजस विमान आगामी सालों में भारतीय वायुसेना के लिए बैकबोन साबित होने जा रहे हैं। हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड ने अपनी सेकंड लाइन मैन्यूफैक्चरिंग सेटअप की शुरुआत नाशिक और बेंगलुरु डिविजन में शुरू कर दी है। ये डील पहले की गई 40 लड़ाकू विमानों की डील से अलग है। ये विमान अगले छह से सात सालों में देश की वायुसेना में शामिल किए जाएंगे। बता दें कि तेजस हवा से हवा में और हवा से जमीन पर मिसाइल दाग सकता है। इसमें एंटीशिप मिसाइल, बम और रॉकेट भी लगाए जा सकते हैं।


बता दें कि तेजस हवा से हवा में और हवा से जमीन पर मिसाइल दाग सकता है। इसमें एंटीशिप मिसाइल, बम और रॉकेट भी लगाए जा सकते हैं। तेजस 42% कार्बन फाइबर, 43% एल्यूमीनियम एलॉय और टाइटेनियम से बनाया गया है। तेजस स्वदेशी चौथी पीढ़ी का टेललेस कंपाउंड डेल्टा विंग विमान है। ये चौथी पीढ़ी के सुपरसोनिक लड़ाकू विमानों के समूह में सबसे हल्का और सबसे छोटा है। हल्के लड़ाकू विमान (LCA) तेजस को भारतीय वायुसेना द्वारा पश्चिमी सीमा पर पाकिस्तान सीमा के करीब तैनात किया गया है।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories