ताज़ा ख़बर
पुलिस मुख्यालय के पास महिला से रेप, दुष्कर्म से पहले आरोपी ने पीड़िता को पीटाCORONA BREAKING : छत्तीसगढ़ में कोरोना की रिकवरी रेट ने पकड़ी रफ्तार, आज 521 संक्रमितों की पुष्टि, 905 स्वस्थ्य होकर लौटे घरहड़ताल से वापस घर लौटी रोजगार सहायिका ने खाया जहर, जांच में जुटी पुलिसबड़ी खबर: मैत्री बाघ में बाघिन वसुंधरा का निधन, इलाज के दौरान थमी सांसेबड़ी खबर: अगर सरकार नहीं करेंगी WHATSAPP के खिलाफ कार्रवाई, तो CAIT करेगा कोर्ट का रुखशर्मसार : पहले लिंग परिवर्तन करवाया, फिर 6 दरिंदों ने की हवस पूरी, भीख मंगवाकर दूसरे से दूसरे भी करवाते थे रेपसुकमा पुलिस को मिली बड़ी सफलता, एक वारंटी नक्सली को दबोचासांसद शताब्दी रॉय के बीजेपी में शामिल होने की अटकले तेज, कही ये बात…देखें VIDEO : “मोदी तेरी तानाशाही नहीं चलेगी… नहीं चलेगी” के नारों से गूंजी राजधानी, केंद्र सरकार के खिलाफ फूटा कांग्रेस का गुस्साBREAKING NEWS : दर्दनाक सड़क हादसे में 11 लोगों की मौत, मची चीख पुकार… PM मोदी ने जताया दुख

श्रम विभाग ने शिव कुमार को दिखाई आमदनी की नई राह, इलेक्ट्रशियन काॅन्टेक्टर के रूप में हुई क्षेत्र में पहचान

Mahendra Kumar SahuJanuary 11, 20211min


 

सुरेश मिनोचा, कोरिया : छत्तीसगढ़ शासन श्रम विभाग के अंतर्गत छत्तीसगढ़ एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण मण्डल के अंतर्गत कोरिया जिले के विकासखण्ड बैकुण्ठपुर के ग्राम पंचायत कसरा के निवासी श्री शिवकुमार पिता रामसुभग का पंजीयन मजदूर के रूप में श्रम विभाग में वर्ष 2017 में किया गया। विभाग में पंजीयन उपरांत शिवकुमार को विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की जानकारी जिले में संचालित शिविरों, सम्मेलनों तथा अन्य प्रचार-प्रसार के माध्यम से प्राप्त हुई।

इन्होनें वर्ष 2017-18 में मुख्यमंत्री निर्माण मजदूर कौशल विकास एवं परिवार सशक्तिकरण योजना अंतर्गत कौशल उन्नयन प्रशिक्षण हेतु आॅनलाइन आवेदन कार्यालय को प्रेषित किया। वर्ष 2017-18 में ही इनका आवेदन पात्रतानुसार कार्यालय द्वारा स्वीकृत कर उक्त योजनांतर्गत इन्हें व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदाता के माध्यम से 03 माह तक इलेक्ट्रिशियन का प्रशिक्षण प्रदान किया गया। प्रशिक्षण के पश्चात् विभाग द्वारा शिवकुमार को उक्त योजना अंतर्गत इलेक्ट्रिशियन का प्रमाण पत्र तथा मानदेय के रूप में कुल 22 हजार राशि प्रदान की गई।

शिवकुमार प्रशिक्षण प्राप्त कर अपने आपको इलेक्ट्रशियन काॅन्टेक्टर रूप में स्थापित करने का निश्चय किया तथा वर्ष 2018 में उसे पहला कान्टेक्ट अपने ही जिले के ग्राम रामपुर में प्राप्त हुआ। उक्त कान्टेक्ट से उसे लगभग 14 हजार की आमदानी हुई जिससे उत्साहित होकर उसने इसी क्षेत्र में आगे बढ़ने का निर्णय लिया। कान्टेक्टर के रूप में स्थापित होने से पूर्व वे कुली/मजदूरी का काम करते थे।

इनके पिता रामसुभग पूर्व से ही श्रम विभाग में चरवाहा (दूध दुहने वाले) के रूप में पंजीकृत है। इन्हें सन् 2016 में मुख्यमंत्री राउत चरवाहा एवं दूध दुहने वाले सायकल सहायता योजना से लाभान्वित किया गया। इनके प्रोत्साहन से शिवकुमार द्वारा श्रम विभाग में पंजीयन करवाया गया। आज शिवकुमार की मासिक आमदनी 15 हजार से 20 हजार औसतन हो गई है तथा निरंतर उसे अपनी आजीविका का साधन अपने ही जिले में प्राप्त हो रहा हैै। इन्होनें छत्तीसगढ़ शासन के श्रम विभाग तथा जिला प्रशासन कोरिया को धन्यवाद दिया।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories