ताज़ा ख़बर
खाद्य विभाग की बड़ी कार्रवाई, बायोफ्यूल फर्म में दबिश देकर भारी मात्रा में जब्त किया संदिग्ध बायोडीजल, मिथाइल इस्टर नाम का रसायन बेच रहे थे संचालकनगर निगम भिलाई-चरोदा और नगर पालिका जामुल के वार्डों का हुआ आरक्षणबड़ी खबर : चेंबर ऑफ कॉमर्स चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान, 5 चरणों में होगा मतदान, 21 मार्च को होगी मतगणनाBREAKING: पर्यावरण को लेकर राज्य सरकार सख्त, प्रदूषण फैलाने वाले 25 उद्योगों के खिलाफ हुई कार्रवाई, 42 को कारण बताओ नोटिस जारीRAIPUR : स्वास्थ्य विभाग ने मैट्स विश्वविद्यालय को किया सम्मानितBIG BREAKING : छत्तीसगढ़ में 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं की तारीखों का ऐलान, केंद्र में ही दिलाना होगा परीक्षाBREAKING : प्रसिद्ध भजन गायक नरेंद्र चंचल का निधन, 80 साल की उम्र में कहा दुनिया को अलविदासरकार का फैसला, पूर्व सीजेआई रंजन गोगोई को जेड प्लस की सुरक्षाबड़ी खबर : बम धमाका, 32 के उड़े चीथड़े, 110 से ज्यादा लोग घायल, देखें वीडियोबड़ी खबर : कांग्रेस को मई में मिल सकता है नया अध्यक्ष! सांगठनिक चुनाव को लेकर CWC में फैसला

बड़ी खबर : कोर्ट के सामने हाजिर हुई मृत महिला, कहा -जज साहब! मैं जिंदा हूं, जानिए फिर क्या हुआ

Mahendra Kumar SahuJanuary 9, 20211min


 

पटना : एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया है। एक महिला ने जिन्दा होने के सबूत पेश करने जज के पास पहुंची। महिला की बात को सुनकर जज भी कुछ देर के लिए सोच में पड़ गए। दरअसल हुआ यूँ कि एक महिला को पुलिस के रिकॉर्ड में मृत दिखा दिया गया। महिला कोर्ट पहुंची और उसने कहा जज साहब, मैं जिंदा हूं। मेरे पति और बच्चे भी हैं। ये पूरा मामला बिहार के आरा जिले का है।

 

महिला को नवादा थाने की पुलिस लेकर कोर्ट पहुंची थी। महिला की दहेज के लिए हत्या कर उसके शव को गायब करने का केस दर्ज किया गया था। पुलिस मामले की जांच कर रही थी। पुलिस को जानकारी मिली कि महिला दिल्ली में रह रही है। फाइलों में मृत महिला को पुलिस ने दिल्ली से बरामद कर लिया। शुक्रवार को कोर्ट में उसका बयान दर्ज कराया गया।

 

क्या है मामला

मृत महिला शहर की पूर्वी गुमटी के लख निवासी अरुण महतो की पत्नी शारदा देवी थी। अरुण महतो मूल रूप से पीरो थाना क्षेत्र के गोविंद टोला (बम्हवार) के रहने वाले हैं। महिला के भाई विनोद महतो की ओर से पिछले साल दिसंबर माह आरा में नवादा थाने में एफआईआर दर्द कराई गई थी। एसपी हर किशोर राय ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज करने के बाद मामले की गहराई से छानबीन की जा रही थी। इसी बीच उसके दिल्ली में होने की जानकारी मिली. उस आधार पर एक टीम दिल्ली गयी और महिला को जिंदा बरामद कर लिया गया।

पति सहित चार के खिलाफ दर्ज कराया गया था हत्या का केस

शारदा देवी के भाई विनोद महतो की ओर से 11 दिसंबर 2020 को नवादा थाने में दहेज हत्या की प्राथमिकी दर्ज की गयी थी। इसमें शारदा देवी के पति के अलावा जेठ मास्टर महतो, जेठानी सरिता देवी और भतीजा विकास महतो को भी आरोपित किया गया था। मार्च 2020 में सूचना मिली कि उसकी बहन की पिटाई की गयी है। इसके अगले दिन ही उसकी हत्या कर शव गायब करने की भी सूचना मिली. इस पर वह बहन के ससुराल पहुंचा, तो वह नहीं मिली तो उसके ससुराल के लोग भी गायब मिले। इसके बाद केस किया गया।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories