ताज़ा ख़बर
पुलिस मुख्यालय के पास महिला से रेप, दुष्कर्म से पहले आरोपी ने पीड़िता को पीटाCORONA BREAKING : छत्तीसगढ़ में कोरोना की रिकवरी रेट ने पकड़ी रफ्तार, आज 521 संक्रमितों की पुष्टि, 905 स्वस्थ्य होकर लौटे घरहड़ताल से वापस घर लौटी रोजगार सहायिका ने खाया जहर, जांच में जुटी पुलिसबड़ी खबर: मैत्री बाघ में बाघिन वसुंधरा का निधन, इलाज के दौरान थमी सांसेबड़ी खबर: अगर सरकार नहीं करेंगी WHATSAPP के खिलाफ कार्रवाई, तो CAIT करेगा कोर्ट का रुखशर्मसार : पहले लिंग परिवर्तन करवाया, फिर 6 दरिंदों ने की हवस पूरी, भीख मंगवाकर दूसरे से दूसरे भी करवाते थे रेपसुकमा पुलिस को मिली बड़ी सफलता, एक वारंटी नक्सली को दबोचासांसद शताब्दी रॉय के बीजेपी में शामिल होने की अटकले तेज, कही ये बात…देखें VIDEO : “मोदी तेरी तानाशाही नहीं चलेगी… नहीं चलेगी” के नारों से गूंजी राजधानी, केंद्र सरकार के खिलाफ फूटा कांग्रेस का गुस्साBREAKING NEWS : दर्दनाक सड़क हादसे में 11 लोगों की मौत, मची चीख पुकार… PM मोदी ने जताया दुख

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका यूनियन ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की सामूहिक बलात्कार और हत्या का विरोध में काला दिवस मानाया

Sanjay sahuJanuary 8, 20211min

 

 

पखांजुर, बिप्लब कुण्डू। पखांजूर में उत्तर प्रदेश बदायूं जिले में आंगनवाड़ी महिला कार्यकर्ता के साथ कथित सामूहिक बलात्कार और उसकी हत्या मानव समाज को शर्मसार कर दिया हैं।इस जघन्य अपराध का संघर्षशील आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका यूनियन (छ:ग ) संबंधता ए.आई.यू. टी.यू.सी.ने तीब्र निंदा करता हैं। और इस जघन्य अपराध का विरोध में आॅल इण्डिया स्कीम वर्कर फेडरेशन के बैनर तले काला दिवस के रुप में मानाया गया हैं।

अनुविभागीय अधिकारी के हाथो प्रधानमंत्री,मुख्यमंत्री के नाम अनुविभागीय अधिकारी रा.के हाथों ज्ञापन सौपा हैं। यूनियन अध्यक्ष कल्पना चंद,उपाध्यक्ष बासन्ती विस्वास ,लक्ष्मी गोलदार,कोषाध्यक्ष अंजू मल्लीक, सचिव जयमाला विश्वास आदि ने कहां है कि वर्तमान समय में महिलाओं पर चौतरफा हमला किया जा रहा हैं।आज के आधुनिक एवं अत्यधिक वैज्ञानिक ,सोच विचार और चौतरफा विकास के समय भी महिलाओं को इन्सानियत के रुप में नहीं देखा जा रहा हैं।महिलाओ को भी भोग्य सामाग्री की नजर से देखा जा रहा हैं।

अंधविश्वास-कुसंस्कार,रुढ़िवादी विचार पनप रहे हैं।जिस कारण आये दिन हर-क्षण महिलाओं के उपर शोषण,जूल्म,अन्याय, अत्याचार,बलात्कार की घटना आम हो गई हैं।

 

इनटरनेट,इलेक्ट्रॉनिक मिडिया, प्रिंट मिडिया आदि पर अशालीलता परोसा जा रहा हैं एवं बेदड़क प्रचार – प्रसार हो रहा हैं। बिकाउ बस्तु की बजार में महिलाओं पर अशालिन ध्यान केन्द्रित किया जा रहा हैं।

 

एसे भरकिला ,वेहुदा प्रचार तंत्र पर शासन – प्रशासन की कई नियंत्रण व्यवस्था नहीं के बराबर हैं।देश में वेपनाह अशिलिलता एवं शराब और अन्य नशिली बस्तु आदि को परोसा जा रहा हैं।नशे के कारण युवाशक्ति एवं घरपरिवार के मुखिया का अल्पायु में मृत्यु हो रहा है।जिससे परिवार बर्बाद हो रहा हैं ।जिसका खामियाजा महिलाओं को भुगतना पर रहा हैं।

 

 

उस महिलाओं पर परिवार ऐसे क्रूर बरबरता समाज के लिए भयंकर परिणाम भुगतने लगे हैं।हर नागरिक के जहन मे बेहद दर्दनाक अमानवीय खूंखार जनानवर का दहशतगरदी का स्थान ले रहे हैं।

 

यूनियन ने मांग किया है कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की बलात्कारी और हत्या करने वालों को तत्काल सख्त से सख्त सजा दिया जाये।इनटरनेट,इलेक्ट्रॉनिक मिडिया, प्रिंट मिडिया आदि पर अशालील प्रचार – प्रसार पर रोक लगाई जाए।नशीली बस्तु पर पाबंदी लागाई जाये।और सम्पूर्ण बन्द शराब लागू किया जाए।

 

महिलाओं पर सभी प्रकर के अपराधिक तत्व पर रोक लगाओं और दोषियों को उदाहरण मूलक सजा दिया जाए ।जरुरतमंद महिलाओं को आर्थिक सहयोग एवं सुरक्षित स्थाई रोजगार मुहैया किया जाए। अकेली महिला कर्मचारी, काम काजी महिला ,छात्रा आदि को महिला हास्टल अथवा आवास में सुरक्षित रहने की सुविधा मुहैया किया जाए।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories