ताज़ा ख़बर
खेल महोत्सव के दूसरे दिन उमड़ा लोगों का जन सैलाब, आज शामिल होंगे विधायक और कलेक्टरपखांजूर : क्षेत्र में शुरू हुई वैक्सीनेशन की प्रक्रिया, पहले चरण में 300 सौ लोगों को लगा टीकामुख्यमंत्री भूपेश बघेल का महासमुंद दौरा कल, साहू समाज के कार्यक्रम में होंगे शामिलपुलिस विभाग में अटकी भर्ती प्रक्रिया को अभ्यर्थियों ने खोला मोर्चा, मांगें पूरी नहीं होने पर उग्र आंदोलन की दी चेतावनीBREAKING : जिले में पदस्थ पांच ASI का ट्रांसफर, एसपी ने जारी किया आदेश, देखें सूचीबड़ी खबर: CAIT ने वाट्सएप व फेसबुक की मनमानी नीतियों के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की याचिकाBIG BREAKING : रायपुर में 20 लाख की लूट, कैशियर पर रॉड से जानलेवा हमला, वारदात CCTV में कैदकोरबा ब्लॉक के पंचायत सचिव एवं रोजगार सहायक की हड़ताल का पूर्व संसदीय सचिव लखन लाल देवांगन ने किया समर्थनRAIPUR BREAKING: LPG गैस कैप्सूल व डंपर में जोरदार भिड़ंत, ड्राइवर फंसा, मौके पर पुलिस, एम्बुलेंस और फायर ब्रिगेडडर गया Whatsapp, कड़ी आपत्ति के बाद आखिर लेना पड़ा ये फैसला… पढ़ें

बुलंदशहर में जूते पर लिखी थी जाति, मचा बवाल, जानिए फिर क्या हुआ

Som dewanganJanuary 6, 20211min


 

बुलंदशहरः उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर से एक अजीबो गरीब मामला सामने आया है जहां जूते की जाति को लेकर बवाल मच गया। दरअसल, एक दुकानदार पर आरोप लगा है कि वह जिस जूते को बेच रहा था उस पर जाति का नाम लिखा था। आरोप है कि दुकानदार के जूते पर ठाकुर शब्द लिखा हुआ था। इसी बात को लेकर जबरदस्त बवाल हुआ। इस मामले में पुलिस ने दुकानदार के हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। दुकानदार का नाम नासिर बताया जा रहा है। हालांकि नासिर को पुलिस ने देर रात छोड़ दिया और हिदायत दी है कि जरूरत पड़ने पर उसे फिर थाने बुलाया जा सकता है।

जानकारी के मुताबिक दुकान पर जो जूता बिक रहा था उसके सोल पर लिखा ठाकुर लिखा हुआ था। अचानक एक ग्राहक की नजर जूते के उस सोल पर पड़ गई और उसने पुलिस में शिकायत कर दी। शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने धार्मिक भावना भड़काने के आरोप में नासिर को हिरासत में ले लिया। जूते को लेकर जिस शख्स ने शिकायत दर्ज कराई है वह बजरंग दल का कार्यकर्ता है।

बुलंदशहर के गुलावटी इलाके में टाउन स्कूल के पास नासिर स्कूल बेच रहा था और कुछ लोग खरीदारी कर रहे थे, इस दौरान जूते के तले पर ठाकुर लिखा हुआ दिखा। जिस युवक ने शिकायत दर्ज कराई वह नासिर के पास जूते खरीदने गया था और उसने देखा कि उसकी दुकान के कई जूतों के नीचे जातिसूचक शब्द लिखा हुआ था। पुलिस ने बताया कि विशाल चैहान नाम के व्यक्ति ने सूचना दी थी कि नासिर नाम के एक व्यक्ति जो अपनी दुकान पर जूते बेच रहा है और जूते के नीचे जातिसूचक शब्द लिखा हुआ है। इस सूचना के आधार पर कार्रवाई की गई है और आगे जो साक्ष्य सामने आएंगे उनके लिहाज से कार्रवाई की जाएगी। हालांकि बाद में पुलिस की ओर से ट्वीट कर इस मामले पर सफाई भी दी गई है।

उधर, नासिर को जब पुलिस पकड़कर ले गई तो उसके परिवार के सदस्यों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। नासिर पहले बग्घी चलाने का काम करता था और खाली समय में सड़क पर जूते बेचता था, फिलहाल पुलिस सबसे पहले उस कंपनी की तलाश में है जो इस जूते का उत्पादन कर रही है। नासिर अपने घर का अकेला कमाने वाला है और उसके परिवारवालों का कहना है कि उसे ये भी नहीं पता कि जूते पर क्या लिखा है।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories