ताज़ा ख़बर
BREAKING: कांग्रेस नेता ने जहर खाकर किया आत्महत्या का प्रयास, गंभीर हालत में आईसीयू में भर्तीबड़ी खबर : बीजेपी सांसद का विवादित बयान आया सामने, इस एक्ट्रेस को बताया सेक्स वर्करBREAKING : पूर्व सीएम अजीत जोगी की पत्नी रेणु जोगी का दायां हाथ फ्रैक्चर, अमित जोगी ने सोशल मीडिया पर दी जानकारीBREAKING : नक्सलियों की बड़ी साजिश नाकाम, सुरक्षाबलों ने डिफ्यूज किया 10 किलो शक्तिशाली बमBREAKING : छत्तीसगढ़ी गाना “दबा बल्लू” पर अश्लीलता के आरोप, गाने और बजाने वालेें पर पांच हजार से अधिक जुर्मानासीएम भूपेश की अध्यक्षता में आज सर्किट हाउस में यूनिफाइड कमांड की बैठक, गृहमंत्री समेत DGP, CRPF डीजी होंगे शामिलकेंद्र सरकार ने जारी की कोरोना की नई गाइडलाइन, सिनेमाघरों में 50% से ज्यादा दर्शकों को मिली अनुमति, सबके लिए खुलेंगे स्विमिंग पूलCM भूपेश की पहल: अब बिलासपुर में लैंड कर सकेंगे 72 सीटर विमान, सिविल एविएशन विभाग ने जारी किया 3 सी लायसेंसBIG BREAKING : सरकारी सेवा में आये इन कर्मचारियों को नहीं मिलेगा पेंशन का लाभ, राज्य सरकार ने पेंशन स्कीम को किया बंदखुले में नहाकर राखी सावंत ने क्रॉस की सारी हदें, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो

वैक्सीन को लेकर मिलने वाली है खुशखबरी! स्पुतनिक-5 का ट्रायल शुरू

Sameer VermaDecember 2, 20201min


 

नई दिल्ली : भारत में रूसी वैक्सीन की सफलता की राह देख रहे लोगों के लिए अच्छी खबर है. भारत में रूसी वैक्सीन स्पुतनिक-5 के दूसरे और तीसरे चरण के ट्रायल की शुरुआत हो गई है. डॉ रेड्डीज और रूसी प्रत्यक्ष निवेश कोष (आरडीआईएफ) ने मंगलवार को कहा कि उन्होंने भारत में स्पुतनिक-5 कोरोना टीके के लिए दूसरे और तीसरे चरण के नैदानिक ​​परीक्षणों की शुरुआत की है. कसौली स्थित केंद्रीय औषधि प्रयोगशाला से आवश्यक मंजूरी मिलने के बाद परीक्षण शुरू किया गया है.

 

हैदराबाद स्थित दवा निर्माता और RDIF ने एक संयुक्त बयान में कहा कि यह एक बहुकेंद्रीय और यादृच्छिक नियंत्रित अध्ययन होगा, जिसमें सुरक्षा और प्रतिरक्षात्मक अध्ययन शामिल होंगे. जेएसएस मेडिकल रिसर्च द्वारा क्लीनिकल रिसर्च पार्टनर के रूप में यह परीक्षण किए जा रहे हैं. इसके अलावा डॉ रेड्डीज ने जैव प्रौद्योगिकी उद्योग अनुसंधान सहायता परिषद (बिराक), जैव प्रौद्योगिकी विभाग (डीबीटी) के साथ सलाहकार सहायता के लिए और वैक्सीन के लिए बिराक के नैदानिक ​​परीक्षण केंद्रों का उपयोग करने के लिए साझेदारी की है.

 

हाल ही में, आरडीआईएफ ने नैदानिक ​​परीक्षण डेटा के दूसरे अंतरिम विश्लेषण की घोषणा की थी, जिसमें कहा गया था कि पहली खुराक के बाद 28वें दिन टीके ने 91.4 प्रतिशत प्रभावकारिता दिखाई, जबकि पहली खुराक के 42 दिन बाद 95 प्रतिशत से अधिक की प्रभावकारिता देखी गई. वर्तमान में, 40,000 स्वयंसेवक स्पुतनिक वी नैदानिक ​​परीक्षणों के चरण 3 में भाग ले रहे हैं.

 


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories