ताज़ा ख़बर
भीषण हादसा: डंपर व टैंपो ट्रेवलर में भिड़ंत, लगी आग, तीन जिंदा जलेBREAKING : 7 थाना प्रभारी और 3 सब इंस्पेक्टर इधर से उधर, एसपी ने जारी किया आदेश, देखें सूचीRAIPUR BREAKING : पूर्व IAS बाबूलाल अग्रवाल की प्रॉपर्टी जब्त, 27 करोड़ 86 लाख की संपत्ति पर ED ने कसा शिकंजाEXCLUSIVE : रायपुर के ये हैं खूनी चौराहे, अगर गुजरते हैं आप तो हो जाएं सावधान, छोटी सी लापरवाही ले सकती है जानरोजगार सहायक ने PNB के खाते में दिया मेहनताना, हितग्राही बोले- इस बैंक में अकाउंट ही नहीं है, शिकायत के बावजूद कोई कार्रवाई नहींबड़ी खबर : परमाणु वैज्ञानिक की आतंकियों ने की हत्या, इजरायल पर लगा मर्डर का आरोपBIG BREAKING : मुख्यमंत्री के राजनीतिक सेक्रेटरी ने की खुदकुशी की कोशिश, अस्पताल में भर्तीआंदोलनकारी किसानों का दिल्ली प्रवेश, अब आगे क्या कदम उठाएंगे किसान? जानेंदेश की जनता से कितनी दूर है कोरोना वैक्सीन? आज PM मोदी वैज्ञानिकों के साथ करेंगे समीक्षाजुलाई-सितंबर तिमाही में कितनी गिरी GDP? केंद्र सरकार ने जारी किए आंकड़े, देखें

फटकार : थाना प्रभारियों की SSP यादव ने लगाई क्लास, अपराधी हुए बेलगाम, बेबस हुई राजधानी पुलिस

Sameer VermaNovember 21, 20201min


 

रायपुर, नितिन नामदेव । राजधानी रायपुर में बढ़ते अपराध पर नकेल कसना राजधानी पुलिस के लिए गले की फांस बनता जा रहा है. शहर में आए दिन मर्डर और चाकूबाजी के केस सामने आ रहे हैं. बीते दिनों छत्तीसगढ़ पुलिस ने 10 माह में हुए सड़क हादसों का ब्यौरा दिया था, लेकिन राजधानी रायपुर में हुए अपराधों का यादि ब्यौरा निकाला जाए तो लिस्ट काफी लंबी होगी.

 

इन अपराधों पर रोक लगाने राजधानी पुलिस भी नाकाम साबित हो रही है. अपराधियों के सामने स्मार्ट पुलिसिंग पूरी तरह से फेल नजर आई. जिसके चलते SSP अजय यादव भी थाना प्रभारियों से खफा हैं. यही वजह है कि शनिवार को सिविल लाईन स्थित प्रेस कॉन्फ्रेंस हॉल में उन्होंने सभी थाना प्रभारियों की जमकर क्लास ली. पुलिस अधिकारियों को फटकार लगाते हुए SSP ने तत्काल अपराधियों पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं.

 

राजधानी रायपुर में पिछले 2 महीनों में हत्या के 17 मामले सामने आए हैं. वहीं 17 से ज्यादा मामले चाकूबाजी के दर्ज किए गए हैं. इसकी जानकारी खुद SSP अजय यादव ने दी है. उन्होंने बताया कि इसमें दो से तीन मामलों के छोड़कर लगभग सभी आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है.

 

 

ज्यादातर एक दूसरे को जानते हैं आरोपी और पीड़ित

SSP अजय यादव ने बताया कि दो महीनों के ज्यादातर मामले ऐसे हैं जिसमें आरोपी और पीड़ित एक दूसरे को जानते हैं. अपराधों को खत्म करना तो मुश्किल है, लेकिन इस पर लगाम जरूर लगाया जा सकता है. इसके लिए सभी थाना प्रभारियों को घटनाओं पर त्वरित और कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं.

 

निगरानी गुंडे बदमाशों की लिस्टिंग

सड़क पर बेखौफ घूम रहे अपराधियों की धरपकड़ के लिए निगरानी बदमाशों की लिस्टिंग हो गई है. अपराधियों के पुराने लिस्ट को अपडेट किया जाएगा. SSP यादव ने थाना प्रभारियों को पर्याप्त मात्रा में पेट्रोलिंग लगाने के आदेश दिए हैं. साथ ही खुले में घुम रहे अपराधियों की पहचान कर उन्हें तत्काल जेल में बंद करने के भी आदेश दिए हैं.

 

महिलाओं से जुड़े मामले में पुलिस असफल

राजधानी में महिलाओं से जु़ड़े मामलों में भी वृद्धि हुई है, SSP यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि राजधानी में महिलाओं से संबंधित केस बाकी हैं. हालांकि पुलिस ने ठगी और साइबर क्राइम से जुड़े मामलों में बेहतर काम किया है. महिलाओं से जुड़े अपराधों में टीम का गठन का इसका निवारण किया जाएगा. साथ ही अपराधियों पर सख्ती बरती जाएगी.

 


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories