ताज़ा ख़बर
इन एक्ट्रेस के ब्लाउज पर मचा बवाल, जमकर ट्रोल हुई ये अभिनेत्रियां, एक की तो सरेआम हुई थी बेइज्जती..तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर ने गुपचुप तरीके से की सगाई, मैच के दौरान मंगेतर को अचानक किया था प्रपोस…ऐसी दीवानगी देखी नही कभी, अनिल कपूर करते है कंगना रणौत से बेइंतहा मोहब्बत, करण के शो मे कहा – कंगना के लिए मेैं अपनी पत्नि को…सोनहत मण्डल कार्यसमिति बैठक हुई संपन्न, इन मुद्दों पर हुई चर्चाछात्रों के लिए राहत की खबर, पेपर लीक के बाद यूपीटीईटी परीक्षा की नई तारीख पर लगी मुहर बड़े सड़क हादसे का शिकार हुए शेन वार्न, गंभीर हालत में अस्पताल में किये गए भर्तीउत्तर से आ रही सर्द हवा से छत्तीसगढ़ में अभी और गिरेगा तापमानलालू यादव की तबियत बिगड़ने पर बेटे तेजस्वी का सामने आया बड़ा बयान, स्वास्थय को लेकर कही ये बात …सोमवार के दिन सूर्य की तरह चमक उठेगी इन राशियों की किस्मत, पढ़ें 29 नवंबर का राशिफलbox office report : नही चला जॉन अब्राहम का जादू, तीन दिनो में ही बॉक्स ऑफिस पर धराशाई हुई सत्यमेव जयते 2, कमाई जानकर उड़ जाएंगे होश..

पुरुष नसबंदी से जुड़े मिथक तोड़ने गांव-गांव पहुंचेगा जागरुकता रथ, – जिला अस्पताल व मेडिकल कालेज में लगाए गए प्रेरक बैनर-पोस्टर

Mahendra Kumar SahuNovember 21, 20201min

 

 

 

राजनांदगांव, 21 नवंबर 2020 ।  परिवार नियोजन में पुरुषों की भागीदारी बढ़ाने के उद्देश्य से मेडिकल कालेज व जिला अस्पताल में पुरुष नसबंदी पखवाड़ा शुरू किया गया है। पहले दिन पुरुष नसबंदी के विषय में जनजागरुकता के लिए अस्पताल परिसर में बैनर-पोस्टर लगाए गए। इनके माध्यम से परिवार नियोजन में पुरुषों को भी भागीदारी निभाने हेतु प्रेरित किया जा रहा है, इसके अलावा जागरुकता रथ भी निकाला जाएगा।

 

स्वास्थ्य विभाग द्वारा पुरुष नसबंदी पखवाड़े के अंतर्गत 21 नवंबर से 4 दिसंबर तक विभिन्न प्रेरक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। पुरुष नसबंदी पखवाड़े को दो चरणों में मनाया जा रहा है। पहले चरण में 21 से 27 नवंबर तक मोबिलाइजेशन सप्ताह जा रहा है तथा द्वितीय चरण में 28 नवंबर से 4 दिसंबर तक सेवा वितरण सप्ताह मनाया जाएगा।

 

इस संबंध में स्वास्थ्य विभाग की जिला कार्यक्रम अधिकारी डा. अल्पना लुनिया ने बताया, पुरुष नसबंदी के बारे में समाज में जागरूकता लाना और पुरुषों को नसबंदी को स्वीकार करने के लिए प्रेरित करना ही पुरुष नसबंदी पखवाड़े का मूल उद्देश्य है। पखवाड़े के प्रथम चरण में कोरोना से बचाव के लिए निर्धारित अनिवार्य नियमों का पालन करते हुए कार्यक्रम का व्यापक प्रचार-प्रसार करने की रूपरेखा बनाई गई है।

 

पखवाड़े की शुरुआत में पुरुषों को नसबंदी के प्रति जागरुक करने का प्रयास किया गया। जिला अस्पताल व मेडिकल कालेज परिसर में विभिन्न प्रेरक संदेशों वाले बैनर-पोस्टर लगाए गए। उन्होंने बताया, पुरुष नसबंदी पखवाड़े की सार्थकता व ग्रामीणों को सजग करने के लिए जिले में जागरूकता रथ भी निकाला जाएगा, जो कि जिले के प्रत्येक विकासखंडों में पहुंचेगा।

 

बैनर-पोस्टर से सुसज्जित जागरुकता रथ और लाउडस्पीकर के जरिए पुरुष नसबंदी के विषय में संदेश प्रचारित किए जाएंगे। ‘मोर मितान मोर संगवारी’ कार्यक्रम के माध्यम से पुरुष नसबंदी का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार किया जाएगा, जिसमें व्यक्तिगत चर्चा और पुरुष नसबंदी के फायदे हितग्राहियों को बताए जाएंगे।

 

साथ ही पुरुष नसबंदी से संबंधित मिथकों को दूर करने के लिए परामर्श भी प्रदान किया जाएगा। कोरोना के प्रभाव की वजह से पुरुष नसबंदी पखवाड़ा कार्यक्रम को इस साल काफी हद तक डिजिटल स्वरूप दिया गया है। यानी पुरुष नसबंदी के विषय में जागरूकता व प्रचार-प्रसार के लिए फेसबुक, व्हाट्सएप या ट्विटर जैसे डिजिटल प्लेटफार्म को भी प्रमुख आधार बनाया गया है।

डा. लुनिया ने बताया, द्वितीय चरण में सेवा वितरण सप्ताह मनाया जाएगा। यह सेवा उपलब्धता पर केंद्रित रहेगा जो कोविड-19 के संदर्भ में संशोधित किया गया है। इस दौरान पुरुष नसबंदी की सेवा प्रदान की जाएगी लेकिन, पुरुष नसबंदी से पूर्व संबंधित की कोरोना जांच की जाएगी और रिपोर्ट निगेटिव आने पर ही व्यक्ति की नसबंदी की जाएगी।

 

इसके अलावा परिवार नियोजन के लिए दी जाने वाली सेवाएं दिशा-निर्देशों के अनुसार ही प्रदान की जाएंगी। विशेष पखवाड़े में स्वास्थ्य केंद्रों पर पुरुष नसबंदी सेवा और इसके फायदे को प्रदर्शित किया जाएगा।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें

Contact Our Chief Editor Mahendra Kumar Sahu

H14, dhehar city, gayatri nagar, raipur chhattisgarh, 492007