ताज़ा ख़बर
EXCLUSIVE: कहीं विवाह योग्य युवक-युवतियां फिर न रह जाएं कुंवारे, दिसंबर में महज 5 ही शुभ मुहूर्तBIG BREAKING : एक साथ 4 स्टार्स कोरोना पॉजिटिव.. वरुण, कियारा, नीतू और अनील कपूर हुए संक्रमित, शूटिंग पर ब्रेकप्रदेश के इस जिले में बनेंगे 568 करोड़ के 64 रोड, CM बघेल आज 792 करोड़ के विकासकार्यों की देंगे सौगातकोरोना योद्धाओं पर लाठियां बरसाती CM शिवराज की पुलिस, जरूरत पूरी तो भूली सरकार! जानें पूरा मामलाकिसान आंदोलन का आज 9वां दिन, केंद्र बोला- MSP रहेगी, किसान बोले- मुद्दा कानूनों का हैराशिफल : मीन राशि वालों को मिलेगा जीवनसाथी का सहयोग, आत्मविश्वास में रहेगी कमीसावधान: रायपुर में अब ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों की खैर नहीं, इस तारीख से शुरू हो रही है चलानी कार्यवाई, जारी किया आदेशCORONA BREAKING : छत्तीसगढ़ में आज 1555 नए कोरोना संक्रमितों की पुष्टि, 17 लोगों ने तोड़ा दम, देखें मेडिकल बु​लेटिनBIG BREAKING : कलेक्टर की कोरोना रिपोर्ट आई पॉजिटिव, प्रशासनिक अमले में मचा हड़कंपराज्य सरकार ने सरकारी कर्मचारियों को दिया बड़ा तोहफा, DA में तीन फीसदी बढ़ोतरी का ऐलान

सफाई कर्मचारियों के हित में केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, सीवर की सफाई अब मशीनों से कराने का लिया निर्णय

Mahendra Kumar SahuNovember 20, 20201min


 

नई दिल्ली : केंद्र की मोदी सरकार ने देश के सफाई कर्मचारियों के हित में बड़ा फैसला लिया है। केंद्र सरकार की सामाजिक न्याय मंत्रालय ने अब सीवर की सफाई मशीन के कराया जाना अनिवार्य कर दिया है। वहीं शहरी मामलों के मंत्रालय ने ‘सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज’ शुरू किया है, ताकि किसी भी व्यक्ति को सीवर या सेप्टिक टैंक में प्रवेश ना करना पड़े।

बता दें की देश के कई ऐसे राज्य है जहां बिना सुरक्षा उपकरणों के सीवर की सफाई सफाईकर्मचारियों से ही कराया जाता है। जिसके कारण हजारों सफाई कर्मचारियों की जान गंवानी पड़ती है। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी इसमें कई राज्यों ने रोक नहीं लगाई है। इसी के चलते पिछले पांच सालों में 800 सफाई कर्मचारियों को अपनी जान गंवानी पड़ी है।

केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ‘विश्व शौचालय दिवस’ के अवसर पर 243 प्रमुख शहरों के बीच ‘सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज’ का शुभारंभ किया। कार्यक्रम के आयोजन में बोलते हुए, सामाजिक न्याय और अधिकारिता सचिव आर सुब्रमण्यम ने कहा कि ‘मैनुअल स्कैवेंजर्स के रोजगार का निषेध और पुनर्वास अधिनियम’ में मौलिक परिवर्तन यह होगा कि अब मशीनी कृत सफाई को अनिवार्य बनाया जाएगा।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories