ताज़ा ख़बर
CORONA BREAKING : छत्तीसगढ़ में आज 1555 नए कोरोना संक्रमितों की पुष्टि, 17 लोगों ने तोड़ा दम, देखें मेडिकल बु​लेटिनBIG BREAKING : कलेक्टर की कोरोना रिपोर्ट आई पॉजिटिव, प्रशासनिक अमले में मचा हड़कंपराज्य सरकार ने सरकारी कर्मचारियों को दिया बड़ा तोहफा, DA में तीन फीसदी बढ़ोतरी का ऐलानEXCLUSIVE: बैंक ऑफ बड़ौदा बैंक का बड़ा कारनामा, चेक जारी करने में की ये गलती, अब खाताधारक हो रहे परेशानBIG BREAKING : मातम में बदली शादी ​की खुशियां, बरातियों से भरा वाहन खाई में गिरा, दूल्हा समेत 8 की मौतBREAKING : जनसम्पर्क विभाग के चार अधिकारी बने सहायक संचालक, राज्य सरकार ने जारी किया आदेशलॉकडाउन के बाद पहली बार खुला रायपुर का ये टॉकीज, दोबारा रिलीज हुई छत्तीसगढ़ फिल्मBREAKING : जारी होने वाली है निगम मंडलों की तीसरी सूची! CM भूपेश दिल्ली रवानाभारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद की जयंती आज, CM भूपेश ने किया नमनRAIPUR : राजधानी में एक बार फिर ट्रक चोर गैंग सक्रििय, लोहे से भरी ट्रक को किया पार, FIR दर्ज

हवा में भारत की और बढ़ेगी ताकत, अमेरिका से मिला P8I पेट्रोलिंग एयरक्राफ्ट, जानें इसकी खासियत

Smita DubeyNovember 19, 20201min


 

नई दिल्ली :  भारतीय नौसेना को अपना पहला P8I पेट्रोलिंग एयरक्राफ्ट मिल गया है। अमेरिका ने बुधवार को पहला नया लंबी दूरी के मैरिटाइम पेट्रोलिंग एयरक्राफ्ट को भारत को भेजवा दिया है। इस एयरक्राफ्ट को गोवा एयर स्टेशन लाया जा रहा है। यह P8I पेट्रोलिंग एयरक्राफ्ट दुश्मनों पर पैनी नजर रखेगा। जिससे भारत की ताकत और बढ़ेगी।

 

जानें P8I पेट्रोलिंग एयरक्राफ्ट की खासियत

P8I पेट्रोलिंग एयरक्राफ्ट सेंसर्स और हथियार से लैस है, जिससे समुद्र के अंदर पनडुब्बियों को निशाना बनाया जा सकेगा और उसे तबाह करेगा। जबकि, अन्य तीन पी-8 आई एयरक्राफ्ट की डिलीवरी अगले साल तक की जाएगी। जुलाई 2016 में अमेरिका से चार पी-8आई के लिए 88 बिलियन डॉलर में डील हुई थी। इन चारों नए पी-8आई को पश्चिमी समुद्र तट पर नजर रखने के लिए मंगाया गया है। जिसे गोवा में आईएनएस हंस पर तैनात किया जाना है।

 

बता दें कि इससे पहले, ऐसे ही 8 एयरक्राफ्ट को तमिलनाडु के अरक्कोनम स्थित आईएनएस राजाली में तैनात किया गया था. हालांकि, शुरुआत में इसका मकसद हिंद महासागर में पैनी नजर रखने का था, लेकिन भारत अब इसका इस्तेमाल चीन की तरफ से लद्दाख में किए जा रहे निर्माण और उसकी मूवमेंट पर नजर रखने के लिए कर रहा है।

 

बोइंग की तरफ से बनाए गए पहले आठ पी-8आई, जिस पर हार्पून ब्लॉक-II मिसाइल, एके-54 हल्के टॉरपेडोस, रॉकेट्स लगाए गए हैं, उन्हें जनवरी 2009 में भारतीय नौसेना में शामिल किया गया था. इसके लिए 2.1 बिलियन डॉलर की डील की गई थी.

 

907 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम रफ्तार और 1200 किलोमीटर ऑपरेटिंग रेंज के साथ सामुद्रिक सर्विलांस और खुफिया मिशन के लिए पी-8आई बिल्कुल माकूल है. अमेरिका के साथ भारत 6 और 1.8 बिलियन डॉलर लागत के पी-8आई एयरक्राफ्ट की डील फाइनल करने जा रहा है.


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories