ताज़ा ख़बर
BREAKING : रिया चक्रवती के भाई शोविक को मिली NDPS कोर्ट से जमानत, ड्रग्स मामले हुए थे गिरफ्तारBREAKING : पुलिस विभाग में तब्दीली, 6 आरक्षक समेत 11 पुलिसकर्मियों का तबादलाBREAKING : खाद्य विभाग में बड़े पैमाने पर तबादला, 54 अधिकारी हुए इधर से उधर, देखें सूचीIND vs AUS 2020: विराट के नाम एक और रिकॉर्ड, क्रिकेट के भगवान सचिन को भी पछाड़ाकिसान आंदोलन से छत्तीसगढ़ में रेल सेवा प्रभावित, देखें कौन-कौन सी ट्रेन हुई कैंसिल, किनके बदले रूटBIG ACCIDENT : भीषण हादसे ने एक ही परिवार के 4 लोगों की ली जान, शव को निकालने काटनी पड़ी कारवैक्सीन को लेकर मिलने वाली है खुशखबरी! स्पुतनिक-5 का ट्रायल शुरूराशिफल : कर्क राशि वालों के परिवार का मिलेगा सहयोग, सन्तान सुख में होगी वृद्धि, जानें अन्य राशियों के हालCORONA BREAKING : छत्तीसगढ़ में आज 1893 नए कोरोना संक्रमितों की पुष्टि, 1976 मरीजों ने इस वायरस जीता जंगBIG BREAKING : राज्य में एक फिर बड़ी प्रशासनिक सर्जरी, 43 आइपीएस अधिकारियों का ट्रांसफर आदेश जारी

पाक :  सांसद अयाज सादिक का बड़ा दावा, कहा- अगर पाक अभिनंदन को रिहा नहीं करता, तो भारत उन्हें तबाह कर देता

Smita DubeyOctober 29, 20201min

 


 

नई दिल्ली : पाकिस्तान के सांसद अयाज सादिक ने विंग कमांडर अभिनंदन को लेकर बड़ा खुलासा किया गया है. उन्होंने दावा करते हुए कहा कि विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने एक बैठक के दौरान कहा था कि अगर पाकिस्तान ने भारतीय पायलट अभिनंदन को रिहा नहीं किया होता, तो भारत पाकिस्तान पर हमला करता. जिसपर भारतीय वायुसेना के पूर्व प्रमुख बीएस धनोआ ने अपनी प्रतिक्रिया दी है. बीएस धनोआ ने कहा कि उन्होंने अभिनंदन के पिता से वादा किया था कि वो उसे वापस लाएंगे.

 

बीएस धनोआ ने आगे कहा कि हमें 1999  की घटना याद है जब पाकिस्तान ने अंतिम वक्त पर धोखा दिया था.  इसलिए हम सतर्क थे. पूर्व वायुसेना प्रमुख ने कहा कि मैंने अभिनंदन के पिता के साथ काम किया है. बता दें कि जब बालाकोट एयरस्ट्राइक हुई थी,  तब बीएस धनोआ ही वायुसेना के चीफ थे.

 

बीएस धनोआ ने कहा कि वो जिस तरह से बयान दे रहे हैं. उसका कारण उस वक्त भारतीय वायुसेना अग्रेसिव पोजिशन में थी. और भारत ऐसी स्थिति में था कि पाक की पूरी ब्रिगेड को खत्म कर सकता था. पाकिस्तान इस बात को जनता था. उन्होंने बताया कि बालाकोट एयरस्ट्राइक के बाद पाकिस्तान पर कूटनीतिक और रणनीतिक तौर पर दबाव था. उन्हें मालूम था कि अगर लाइन क्रॉस की तो उसका अंजाम भुगतना पड़ सकता है.

 

बता दें कि फरवरी 2019 में पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत ने बालाकोट में एयरस्ट्राइक की थी. इसके अगले दिन पाकिस्तान ने अपने विमानों को भारत की ओर भेजा था, तब उन्हें खदेड़ते हुए विंग कमांडर अभिनंदन उस ओर गिर गए थे. लेकिन 48 घंटे के अंदर पाकिस्तान को उन्हें छोड़ना पड़ा था.

 


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories