ताज़ा ख़बर
CORONA BREAKING : प्रदेश में आज 2,376 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज़ों की पहचान, 16 की मौत, देखें मेडिकल बुलेटिनकोरोना वैक्सीन को लेकर बड़ी खबर : चीनी कोरोना वैक्सीन एकदम सुरक्षित, एंटीबॉडी बनाने में भी सक्षमBIG BREAKING : पुलिस को मिली बड़ी सफलता, मुकेश अंबानी और अमिताभ बच्चन बनकर लाखों ठगने वालें पाकिस्तानी को दबोचा, 42 लाख नगदी के साथ 5 आरोपी गिरफ्तारकोरोना मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा देने में कारिया जिले ने रचा इतिहास, पूरे प्रदेश दूसरा रैंक परराजधानी में 10 लाख की चोरी : टूटी खिड़की देख सकते में आया परिवार, सोने-चांदी के जेवर समेत नकदी लेकर चोर फरारकंकली मंदिर नवयुवक दुर्गोत्सव समिति का 35वां सालभाजपा प्रदेश कार्यसमिति की मीटिंग आज, वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़ेंगे सभी सदस्यMP में राजनीतिक भूचाल : कमलनाथ ने मंत्री इमरती देवी को कह दिया ‘आइटम’, विरोध में BJP साधेगी मौनToday In History : 50 साल पहले इंडियन एयरफोर्स में हुई थी मिग-21 की एंट्रीBREAKING : वन मंत्री के निर्देश पर त्वरित अमल: राजनांदगांव के सात तहसीलदार तथा नायब तहसीलदारों का तबादला

30 हजार के लिए राधाकृष्ण हॉस्पिटल प्रबन्धन ने 8 साल के मासूम की डेड बॉडी को बनाया बंधक, प्रशासन पहुची तो परिजनों को सौपी गई बच्चे का शव

Hitesh dewanganOctober 17, 20201min

30 हजार के लिए राधाकृष्ण हॉस्पिटल प्रबन्धन ने 8 साल के मासूम की डेड बॉडी को बनाया बंधक, प्रशासन पहुची तो परिजनों को सौपी गई बच्चे का शव

WhatsApp Image 2020-10-17 at 12.20.56 PM

सारंगढ: एक 8 साल के मासूम केशव को महज 30 हजार रुपए के लिए 15 घंटे तक बंधक बनाकर अस्पताल में रख लिया गया जब इस बात की जानकारी प्रशासन को हुई तो एसडीएम के निर्देश पर शव को अस्पताल के कब्जे से मुक्त कराया गया।

इस संबंध में जो जानकारी आ रही है वह सारंगढ़ से है यहां सारंगढ़ से बिलासपुर मार्ग पर राधा कृष्ण अस्पताल स्थित है। इस अस्पताल में सारंगढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम जशपुर निवासी 8 साल के मासूम भूरु राम सारथी को उसके पेट एवं सीने में दर्द होने की शिकायत के बाद भर्ती कराया गया था । जहां उसे आईसीयू में रखकर इलाज किया गया एवं 4 दिन बाद जनरल वार्ड में यह कह कर शिफ्ट कर दिया गया कि वह अब पूरी तरह से स्वस्थ है।

अस्पताल प्रबंधन ₹48000 जमा कर बच्चे को घर ले जाने की सलाह दे दी लेकिन आर्थिक रूप से कमजोर परिजनों की ओर से यह और से इंतजाम के काफी प्रयास के बावजूद भी रुपए का इंतजाम नहीं हो सका । वहीं दोपहर लगभग 2 बजे बच्चे की मौत हो गई।

अस्पताल प्रबंधन की ओर से बताया गया कि डेड बॉडी को 48000 रुपए दिए बिना वह नहीं ले जा सकते। उन्होंने किसी प्रकार ₹10000 का इंतजाम किया और उसे अस्पताल में जमा करते हुए शेष रकम बाद में देने की मिन्नत की लेकिन अस्पताल प्रबंधन नहीं माना और पूरे रुपए जमा करने के बाद ही 100 को घर ले जाने की बात पर अड़ा रहा।

बच्चे की मौत होने के बाद परिजन व्याकुल होकर इधर-उधर भटकते रहे बावजूद इसके रुपए का इंतजाम नहीं हो रहा था सब को बंधक बनाए जाने की खबर जब स्थानीय प्रशासन को मीडिया के जरिए मिली तो एसडीएम नंद कुमार चौबे ने तहसीलदार और बीएमओ को अस्पताल भेजा जहां प्रशासनिक अमले ने अस्पताल प्रबंधन को इस बात की समझाइश दी की परिवार अत्यंत गरीब है ऐसे में वह अपना सामाजिक दायित्व भी निभाए। प्रशासनिक समझा इसके बाद अस्पताल प्रबंधन ने कुछ दिनों की मोहलत दे कर देर रात बच्चे के सबको ले जाने की अनुमति दी।

मृतक के परिजनों ने बताया कि अस्पताल की ओर से ₹48000 काबिल बनाया गया था लेकिन ₹8000 डिस्काउंट किया गया था और ₹10000 उन्होंने व्यवस्था करके अस्पताल में जमा की थी शेष ₹30000 का इंतजाम नहीं हो पाया था।

क्या कहता है अस्पताल प्रबंधन

अस्पताल प्रबंधन की ओर से डीडी साहू ने बताया कि बच्चे को बंधक नहीं बनाया गया था । यह आरोप झूठे हैं । बच्चे को झटके आने की बीमारी थी इलाज के बाद उसे स्वस्थ कर दिया गया लेकिन दोपहर में जब उसकी मां खाना खिला रही थी तो एक बार फिर उसे झटका आया और वह स्पिल्ट कर गया। जिससे उसकी मौत हो गई। परिजन रुपयों का इंतजाम करने गए हुए थे। देर रात उनके पहचान वाले और प्रशासन की टीम आई थी तो पैसे देने की उनकी गारंटी पर बच्चे के शव को मुक्त कर दिया गया है।

क्या कहते हैं सारंगढ़ के बीएमओ

इस संबंध में जब हमने सारंगढ़ के बीएमओ घृतलहरे से बात की तो उन्होंने बताया कि एसडीएम सारंगढ़ को इस बात की सूचना मिली थी और उनके निर्देश पर प्रशासन की टीम और मैं स्वयं अस्पताल गया था वहां अस्पताल प्रबंधन को समझाइश देते हुए और सामाजिक दायित्व निर्वहन करते हुए बच्चे के शव को उनके परिजनों के हवाले करने की बात कही गई जिस पर अस्पताल प्रबंधन सहमत हो गया।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories