ताज़ा ख़बर
CORONA BREAKING : प्रदेश में आज 2,376 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज़ों की पहचान, 16 की मौत, देखें मेडिकल बुलेटिनकोरोना वैक्सीन को लेकर बड़ी खबर : चीनी कोरोना वैक्सीन एकदम सुरक्षित, एंटीबॉडी बनाने में भी सक्षमBIG BREAKING : पुलिस को मिली बड़ी सफलता, मुकेश अंबानी और अमिताभ बच्चन बनकर लाखों ठगने वालें पाकिस्तानी को दबोचा, 42 लाख नगदी के साथ 5 आरोपी गिरफ्तारकोरोना मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा देने में कारिया जिले ने रचा इतिहास, पूरे प्रदेश दूसरा रैंक परराजधानी में 10 लाख की चोरी : टूटी खिड़की देख सकते में आया परिवार, सोने-चांदी के जेवर समेत नकदी लेकर चोर फरारकंकली मंदिर नवयुवक दुर्गोत्सव समिति का 35वां सालभाजपा प्रदेश कार्यसमिति की मीटिंग आज, वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़ेंगे सभी सदस्यMP में राजनीतिक भूचाल : कमलनाथ ने मंत्री इमरती देवी को कह दिया ‘आइटम’, विरोध में BJP साधेगी मौनToday In History : 50 साल पहले इंडियन एयरफोर्स में हुई थी मिग-21 की एंट्रीBREAKING : वन मंत्री के निर्देश पर त्वरित अमल: राजनांदगांव के सात तहसीलदार तथा नायब तहसीलदारों का तबादला

SUSHANT DEATH CASE : सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वाला वकील गिरफ्तार, मुंबई पुलिस और महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ किया आपत्तिजनक टिपण्णी

Hitesh dewanganOctober 16, 20201min

SUSHANT DEATH CASE : सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वाला वकील गिरफ्तार, मुंबई पुलिस और महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ किया आपत्तिजनक टिपण्णी


 

मुंबई : सुशांत सिंह सुसाइड मामले में मुंबई पुलिस ने सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वाले एक वकील को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस ने दिल्ली से आरोपी विभोर आनंद को IPC और IT एक्ट की धाराओं के तहत गिरफ्तार किया है. वकील पर ट्वीट करने और इस केस से दूर- दूर तक संबंध नहीं रखने वाले लोगों को बदनाम करने का आरोप है.

मुंबई क्राइम ब्रांच पुलिस के DSP अकबर पठान ने बताया कि. सुशान्त सिंह और दिशा सालियान की मौत के मामले में आरोपी फर्जी थ्योरी बनाकर फैला रहा था. साथ ही मुम्बई पुलिस और महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ आपत्तिजनक भाषा का भी इस्तेमाल कर रहा था. लगातार आपत्ति जनक भाषा का इस्तेमाल करने को लेकर पुलिस की साइबर सेल ने विभोर आनंद के खिलाफ केस दर्ज कर दिल्ली से गुरुवार की रात को मुम्बई लेकर आई है.

 

 

 

गौरतलब है कि सुशांत की मौत के बाद से ही मुम्बई पुलिस ट्रोल आर्मी और फेक सोशल मीडिया प्रोफाइल के जरिए टारगेट पर थी. जहां देश ही नहीं बल्कि विदेशों से सरकार और पुलिस के खिलाफ अफवाह फैलाई जा रही थी. सुशान्त केस से जोड़ कर गलत बातें लिखी जा रही थी. जिसपर कार्रवाई की गई.


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories