ताज़ा ख़बर
वेतन विसंगति समेत विभिन्न मांगों को लेकर शिक्षक संघ ने निकाली मौन रैलीकरंट की चपेट में आने से तेन्दुए की मौत, 4 आरोपी गिरफ्तार, जांच में जुटी वन विभागIND-AUS 2020 : IPL के बाद भारत का ऑस्ट्रेलिया दौरा, देखें- कब और कहां खेले जाएंगे सभी मुकाबलेबड़ी खबर : बिहार चुनाव को दहलाने की साजिश! बूथ के करीब दो IED बरामदCG CRIME : देसी कट्टे के साथ पकड़ा गया युवक, लॉकडाउन में झारखंड से मंगवाया था रिवाल्वरRaipur News : CM भूपेश बघेल आज जाएंगे जगदलपुर, बस्तर को देंगे 562 करोड़ से अधिक की सौगातBihar Election 2020 : पहले चरण की वोटिंग शुरू, 1066 प्रत्याशियों की किस्मत EVM में होगी कैदCORONA BREAKING : प्रदेश में आज 2,046 नए कोरोना मरीजों की पहचान, 2,017 मरीज़ हुए स्वस्थ, देखें मेडिकल बुलेटिनRAIPUR CRIME: बैंक में बंधक भूमि भवन को कर दिया विक्रय, दो सगे भाइयों के खिलाफ 24 लाख की धोखाधड़ी का अपराध दर्जगोबर विक्रय से प्राप्त रूपये से किसान शिवनारायण ने खरीदे 2 और मवेशी, राज्य सरकार को इस योजना के लिए दिया धन्यवाद

एक नवंबर से शुरू होगी आयरन और विटामिन युक्त फोर्टिफाईड चावल वितरण की योजना

Sameer VermaOctober 15, 20201min

एक नवंबर से शुरू होगी आयरन और विटामिन युक्त फोर्टिफाईड चावल वितरण की योजना

download (1)

 

रायपुर: सीएम भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ सरकार भोजन में आवश्यक पोष्टिक तत्वों की पूर्ति और कुपोषण के नियंत्रण के लिए आगामी एक नवंबर राज्य स्थापना दिवस से फोर्टिफाईड राईस वितरण की अभिनव योजना शुरू करने जा रही है।

 

आयरन और विटामिन से युक्त फोर्टिफाईड राईस वितरण की यह योजना राज्य के कोण्डागांव जिले में पायलट प्रोेजेक्ट के रूप में शुरू होगी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने वर्ष 2020-21 के अपने बजट भाषण में इस योजना को प्रारंभ करने की घोषणा की थी। इसके लिए राज्य सरकार द्वारा 5 करोड़ 80 लाख रूपए का बजट प्रावधान भी किया गया है।

गौरतलब है कि फोर्टिफाईड राईस में लौह तत्व, विटामिन बी-12 तथा फोलिक एसिड युक्त फोर्टिफाईड राईस करनेल (एफआरके) का मिश्रण होता है। जो लोगों को खुराक में आवश्यक पोष्टिक तत्वों की पूर्ति के साथ ही कुपोषण के नियंत्रण में काफी मददगार साबित होगा। इस राईस का वितरण कोण्डागांव जिले में सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) और अन्य कल्याणकारी योजनाओं के तहत किया जाएगा। इस राईस का भारतीय खाद्य सुरक्षा मानक प्राधिकरण (एफएसएसआई) द्वारा निर्धारित मापदण्ड अनुसार वितरण किया जाएगा।

कोण्डागांव जिले मेें पीडीएस एवं अन्य कल्याणकारी योजनाओं के तहत समस्त चावल को फोर्टिफाईड कर वितरित किया जाएगा। फोर्टिफाईड राईस तैयार करने लिए दो राईस मिल को राईस ब्लेडिंग कार्य सौंपा गया है। कोण्डागंाव जिले में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत एक लाख 11 हजार 217 राशनकार्ड तथा राज्य योजना के तहत 23 हजार 204 राशनकार्ड इस तरह कुल एक लाख 34 हजार 421 राशनकार्ड प्रचलित है। इस जिले में चांवल का कुल वार्षिक आबंटन 60 हजार 188 टन है जिसमें पीडीएस चांवल का 55 हजार 068 टन है और कल्याणकारी योजना, मध्यान्ह भोजन, पूरक पोषण आहार आदि योजनाओं का वार्षिक आबंटन 5 हजार 120 टन है।

Related Articles


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories