ताज़ा ख़बर
CORONA BREAKING : प्रदेश में आज 2,046 नए कोरोना मरीजों की पहचान, 2,017 मरीज़ हुए स्वस्थ, देखें मेडिकल बुलेटिनRAIPUR CRIME: बैंक में बंधक भूमि भवन को कर दिया विक्रय, दो सगे भाइयों के खिलाफ 24 लाख की धोखाधड़ी का अपराध दर्जगोबर विक्रय से प्राप्त रूपये से किसान शिवनारायण ने खरीदे 2 और मवेशी, राज्य सरकार को इस योजना के लिए दिया धन्यवादबड़ी खबर : फेसबुक इंडिया की पब्लिक पॉलिसी हेड आंखी दास ने कंपनी छोड़ी, पक्षपात के लगे थे आरोपBREAKING : दीपिका पादुकोण की मैनेजर करिश्मा प्रकाश के ठीकानों में NCB की दबिश, ड्रग्स मिलने के बाद भेजा समनबड़ी खबर: राजधानी में चाकूबाजी में घायल युवक इलाज के दौरान मौत, परिजनों ने थाना पहुंच किया हंगामाबड़ी खबर : पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष के बेटे की गुंडागर्दी : सरेराह 11 लोगों को कुचला, एक मासूम की मौत, चक्काजामBREAKING : अब रायपुर और दुर्ग स्टेशन से किसान रेल की सुविधा, फल व सब्जी के भाड़े में मिलेगी 50 प्रतिशत की छूटBREAKING: पूर्व पार्षद ने भाजपा अध्यक्ष सुंदरानी के खिलाफ की टिप्पणी, आक्रोशित भाजपाई पहुंचे थानेCRIME : चाइल्ड पोर्नोग्राफी मामले में 2 और FIR, NCRB से मिली जांच रिपोर्ट के बाद रायपुर पुलिस ने दर्ज किया मामला

डोंगरगढ़ : नवरात्र में कोरोना संकट, श्रद्धालुओं के लिए बंद रहेगा मां बम्लेश्वरी का दरबार, फोर्स रहेगा तैनात

Hitesh dewanganOctober 14, 20201min

डोंगरगढ़ : नवरात्र में कोरोना संकट, श्रद्धालुओं के लिए बंद रहेगा मां बम्लेश्वरी का दरबार, फोर्स रहेगा तैनात

 

 


 

राजनांदगांव। प्रदेश में फैले कोरोना महामारी के कारण कई धार्मिक-पर्व में कोरोना का संकट छाया हुआ है। वही 17 अक्टूबर से शुरू हो रहे नवरात्र पर्व में भी कोरोना का संकट देखने को मिल रहा है। छत्तीसगढ़ के प्रसिद्ध मंदिर मां बम्लेश्वरी ( डोंगरगढ़ ) में कोरोना संक्रमण के चलते किसी तरह के आयोजन नहीं होंगे। साथ ही मन्दिर में पूजा अर्चना चालु रहेगी। शासन की गाइडलाइन के अनुसार मन्दिर में केवल पंडित-पुजारियों के अलावा मन्दिर ट्रस्ट के सदस्यों को ही मन्दिर जाने की अनुमति होगी।

 

वहीँ प्रज्वलित ज्योति कलशों की देख-रेख के लिये मन्दिर के सेवादार को भी मन्दिर में ही रुकने की अनुमति दी गई है। यह दूसरी नवरात्रि रहेगी जिसमे एक भी श्रद्धालु शामिल नहीं होंगे। डोंगरगढ़ में बढ़ रहे करोना संक्रमण को देखते हुए प्रशासन ने पहले ही पर्व के दौरान लगने वाले मेले को रद्द कर दिया था। मन्दिर बंद रहने तथा लोगों को डोंगरगढ़ नहीं आने के लिए प्रदेश तथा देश के कई राज्यों के जिला कलेक्टरों को मुनादी कराने जिला प्रशासन द्वारा पत्र लिखा गया है।

 

 

बता दे कि जिले से लगी महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश की बॉर्डर को सील कर दिया जाएगा। बाहर से आने वालों को शहर में एंट्री नहीं दी जायेगी। यदि कोई दर्शनार्थी दर्शन करने पहुंच भी जाता है तो उन्हें बॉर्डर से लौटा दिया जाएगा। चिचोला, तुमड़ी बोड बाघनदी तथा अछोली गांव में बैरिकेट लगाकर पुलिस के जवान तैनात रहेंगे। गौरतलब है की क्वार नवरात्र पर्व में लोगों को एहतियात के साथ मन्दिर जाने तथा दर्शन की अनुमति मिलने की सम्भावना तो थी, लेकिन संक्रमण के बढ़ते ग्राफ को देखते हुए प्रशासन ने पिछली बार की तरह प्रतिबन्ध लगा दिया है। पर्व के दौरान अतिरिक्त फोर्स को तैनात किया जायेगा।

Related Articles


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories