ताज़ा ख़बर
BREAKING: कांग्रेस नेता ने जहर खाकर किया आत्महत्या का प्रयास, गंभीर हालत में आईसीयू में भर्तीबड़ी खबर : बीजेपी सांसद का विवादित बयान आया सामने, इस एक्ट्रेस को बताया सेक्स वर्करBREAKING : पूर्व सीएम अजीत जोगी की पत्नी रेणु जोगी का दायां हाथ फ्रैक्चर, अमित जोगी ने सोशल मीडिया पर दी जानकारीBREAKING : नक्सलियों की बड़ी साजिश नाकाम, सुरक्षाबलों ने डिफ्यूज किया 10 किलो शक्तिशाली बमBREAKING : छत्तीसगढ़ी गाना “दबा बल्लू” पर अश्लीलता के आरोप, गाने और बजाने वालेें पर पांच हजार से अधिक जुर्मानासीएम भूपेश की अध्यक्षता में आज सर्किट हाउस में यूनिफाइड कमांड की बैठक, गृहमंत्री समेत DGP, CRPF डीजी होंगे शामिलकेंद्र सरकार ने जारी की कोरोना की नई गाइडलाइन, सिनेमाघरों में 50% से ज्यादा दर्शकों को मिली अनुमति, सबके लिए खुलेंगे स्विमिंग पूलCM भूपेश की पहल: अब बिलासपुर में लैंड कर सकेंगे 72 सीटर विमान, सिविल एविएशन विभाग ने जारी किया 3 सी लायसेंसBIG BREAKING : सरकारी सेवा में आये इन कर्मचारियों को नहीं मिलेगा पेंशन का लाभ, राज्य सरकार ने पेंशन स्कीम को किया बंदखुले में नहाकर राखी सावंत ने क्रॉस की सारी हदें, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो

न्याय ना मिलने तक जारी रहेगा आंदोलन, पत्रकार से मारपीट की घटना पर बीजापुर के पत्रकारों ने जताया विरोध, राज्यपाल के नाम सौंपा ज्ञापन

Sanjay sahuSeptember 29, 20201min
WhatsApp Image 2020-09-29 at 1.53.06 PM (1)

 


ईश्वर सोनी, बीजापुर। पत्रकार कमल शुक्ला के साथ हुई मारपीट और दुर्व्यवहार की घटना को लेकर मंगलवार को बीजापुर प्रेस क्लब ने राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंप अपना विरोध जताया। प्रेस क्लब अध्यक्ष सतेंद्र पंत के नेतृत्व में पत्रकारों ने एसडीएम डॉ हेमेंद्र भुआर्या को ज्ञापन सौंपा,जिसमे घटना का जिक्र करते हुए दोषियों के विरुद्ध धारा 307 कायम करते उनकी यथाशीघ्र गिरफ्तारी, कांकेर कलेक्टर व एसपी को मामले की निष्पक्ष जांच के लिए त्वरित हटाने, प्रदेश में पत्रकारों से दुर्व्यवहार, मारपीट, राजनीतिक षड्यंत्र के विरुद्ध शीघ्र पत्रकार सुरक्षा कानून लागू करने की मांग की गई है। घटना पर रोष व्यक्त करते प्रेस क्लब अध्यक्ष सतेंद्र पंत ने कहा कि कांकेर में जो कुछ भी हुआ, वह सीधे तौर पर लोकतंत्र पर हमला है, इसकी जितनी भत्र्सना की जाए कम है।

महासचिव पुष्पा ने घटना को निंदनीय करार देते कहा कि लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ को बचाए रखने और समाज मे स्वस्थ्य,जिम्मेदार और निर्भीक पत्रकारिता के लिए आवश्यक है कि प्रदेश में प्राथमिकता से पत्रकार सुरक्षा कानून लागू हो। पूर्व प्रेस क्लब अध्यक्ष गणेश मिश्रा का कहना था कि कमला शुक्ला एक कर्मठ और निष्पक्ष पत्रकार है। कांकेर की घटना के बाद प्रदेश में पत्रकारिता स्वतंत्र है, अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता कायम, यह कहना कठिन होगा।

घटना दुर्भाग्यपूर्ण है और पूरे मामले में सरकार से जैसी निष्पक्ष कार्रवाई की उम्मीद थी, उसके अनुरूप कार्रवाई ना होंने से यह प्रतीत होता है कि अपराधियों को सरकार का संरक्षण प्राप्त है, बाबजूद न्याय को लड़ाई लंबी है और प्रदेश भर के पत्रकार इस लड़ाई के लिए तैयार है,जब तक कि मामले में निष्पक्ष कार्रवाई नहीं हो जाती पत्रकार गांधीवादी तरीके से आंदोलनरत रहेंगे। इस दौरान बीजापुर जिले के समस्त पत्रकार मौजूद थे। सभी ने एक स्वर में पत्रकार कमल शुक्ला को न्याय दिलाने आंदोनरत रहने का संकल्प भी दोहराया।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories