ताज़ा ख़बर
BREAKING : राज्यपाल ने वापस लौटाई विशेष सत्र की फाइल, ये है वजहBollywood : मजेदार कॉमेडी फिल्म “LUDO” लेकर आ रहे डायरेक्टर अनुराग बसु, यहां देखें ट्रेलरBREAKING : वापस आया Tik-Tok, यहां सरकार ने एप पर बैन हटायाBREAKING : रायपुर रेलवे स्टेशन में मर्डर, खून से लथपथ मिली युवक की लाश, जांच में जुटी पुलिसअब 5 साल के बच्चे को भी हेलमेट अनिवार्य, वरना चालान तो कटेगा ही.. लाइसेंस भी रद्द होगाFestival Special Trains : त्यौहारी मौसम में रेलवे का फैसला, आज से पटरी पर दौड़ेगी 392 ट्रेनें.. देखें रूटChhattisgarh Police : दागी अफसरों की होगी छुट्टी, पुलिस की छवि सुधारने DGP अवस्थी का बड़ा फैसलाजम्मू-कश्मीर : शोपियां में जवानों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, एक दहशतगर्द ढेरCORONA BREAKING : प्रदेश में आज 2,376 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज़ों की पहचान, 16 की मौत, देखें मेडिकल बुलेटिनकोरोना वैक्सीन को लेकर बड़ी खबर : चीनी कोरोना वैक्सीन एकदम सुरक्षित, एंटीबॉडी बनाने में भी सक्षम

VIDEO : कोरोना से तड़पता रहा पिता: बेटा सोशल मीडिया पर लगाता रहा गुहार, देखने भी नहीं पहुंचे डॉक्टर, मौत

Hitesh dewanganSeptember 15, 20201min

VIDEO : कोरोना से तड़पता रहा पिता: बेटा सोशल मीडिया पर लगाता रहा गुहार, देखने भी नहीं पहुंचे डॉक्टर, मौत

 


 

रायपुर। प्रदेश में कोरोना का भयानक रूप देखने को मिल रहा है। प्रतिदिन 3 हजार के करीब मामले सामने आ रहे है। अब तक मौतों का आंकड़ा भी 5 सौ के पार हो गए हैं। वहीं राजधानी रायपुर में कोरोना के चलते एक वृद्ध ने एम्स में दम तोड़ दिया। बेटे का आरोप है कि पिता की तबीयत बिगड़ती चली गई और वार्ड में उनको देखने के लिए कोई नहीं पहुंचा। इसके बाद उसके पिता की तड़प-तड़प कर मौत हो गई। सोशल मीडिया पर बेटे का यह वीडियो वायरल हो रहा है। वहीं, एम्स ने ऐसी किसी भी लापरवाही से इनकार किया है।

 

 

9 सितंबर को एम्स में भर्ती कराया गया था

 

 

दरअसल, रायपुर निवासी अजय जॉन के पिता की तबीयत बिगड़ने पर उन्हें 9 सितंबर को एम्स में भर्ती कराया गया था। अजय का कहना है कि उनके पिता को आइसोलेशन वार्ड में रखा गया था। जहां उनकी तबीयत लगातार बिगड़ती चली गई। आरोप लगाया कि कमरा बाहर से बंद था। उनके पिता दरवाजा पीट रहे थे, लेकिन किसी ने नहीं सुना।

 

 

आईसीयू में एडमिट नहीं करने का भी आरोप

 

 

फेसबुक पर पोस्ट वीडियो काफी भावुक कर देने वाला है। अजय का आरोप है कि उनके पिता ने सोमवार तड़के करीब 4 बजे कॉल किया। कहा कि यहां देखने वाला कोई नहीं है। इस पर वह एम्स पहुंचे। इसके बाद नर्सिंग स्टाफ अंदर गया। बताया कि पिताजी की हार्ट रेट बढ़ी है, आॅक्सीजन लेवल कम है। पिता को आईसीयू में एडमिट नहीं करने का भी आरोप लगाया।

 

प्राइवेट अस्पताल ले जाने के लिए एंबुलेंस बुलाई, फिर भी नहीं किया रेफर

 

 

अजय का आरोप है कि पिता की हालत देखकर उन्होंने प्राइवेट अस्पताल ले जाने की बात कही। इस पर कार्डियक एंबुलेंस बुलाने को कहा गया। उन्होंने एंबुलेंस बुलाई, लेकिन रेफर करने की जगह कहा कि उनका लंग्स खराब हो गया है। उन्होंने कहा कि दो दिन बाद कह देंगे कि पिताजी नहीं रहे। अजय सरकार से भी गुहार लगाते रहे।

 

एम्स प्रबंधन ने कहा- हमने उपचार में कोई लापरवाही नहीं की

 

 

एम्स प्रबंधन का कहना है कि उपचार में कोई लापरवाही नहीं की गई है। एम्स के पीआरओ शिव शर्मा ने बताया कि उनको 9 सितंबर को एडमिट किया गया तो वह एसेप्टिमैटिक थे। इसके चलते उन्हें आइसोलेशन में रखा गया था। इसके बाद उनकी तबीयत बिगड़ी तो उन्हें आईसीयू में रखा गया, लेकिन नहीं बच सके।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories