ताज़ा ख़बर
चर्च के बाहर युवक ने किया चाकू से हमला, 3 लोंगो की मौत, पुलिस ने आरोपी को मार गिरायाBREAKING: भारी पुलिस बल के बीच निकल रही हत्या के आरोपी बादल की शवयात्रा, तनाव होने की आशंका पर पुलिस प्रशासन के आला अधिकारी मौजूदमुंगेर में मूर्ति विसर्जन-गोलीकांड को लेकर बवाल, आक्रोशित भीड़ ने थाने को किया आग के हवालेRAIPUR: बड़ी बहन के घर भिलाई से लौट रहे अधेड़ की ओवरब्रिज के नीचे रेलवे ट्रैक पर मिली थी लाश, डेढ़ साल बाद सुपर PM रिपोर्ट में हत्या का हुआ खुलासा, FIR दर्जछत्तीसगढ़ ब्रेकिंग : उत्कृष्ट कार्य करने वाले 7 पुलिस अधिकारियों को शौर्य पदक की घोषणा, CM हाउस में आयोजित सम्मान समारोह में दिया जाएगा पदकनहीं रहे गोंगपा सुप्रीमो हीरासिंह मरकाम, 78 साल की उम्र में दुनिया को कहा अलविदा, प्रदेश के आदिवासी नेतृत्व को बड़ी क्षतिRAIPUR BREAKING: राजधानी के 3 कारोबारियों के घर-गोडाउन पर पुलिस ने मारा छापा, नकली रेड लेबल टी सहित शैम्पू-सर्फ एक्सेल जब्तCORONA BREAKING : प्रदेश में आज 1929 नए कोरोना मरीजों की पहचान, 1271 मरीज़ हुए स्वस्थ, देखें मेडिकल बुलेटिनBIG BREAKING : JCCJ विधायक देवव्रत सिंह की अमित जोगी से अपील, कहा- इस पार्टी को मजबूती से नहीं चला सकते, कांग्रेस में जाना ही एक विकल्पBREAKING : राजधानी में सेंधमारी कर चोरों ने ज्वेलरी दुकान में दी दबिश, 13 लाख के जेवरात पर हाथ साफ, फॉरेंसिक व डॉग स्काट की मदद से पुलिस चोरों की तलाश में जुटी

बड़ी खबर: वैक्सीन की पहली आधिकारिक तस्वीर आई सामने, 20 देशों ने वैक्सीन के लिए दिया ऑर्डर

Hitesh dewanganAugust 12, 20201min

बड़ी खबर: वैक्सीन की पहली आधिकारिक तस्वीर आई सामने, 20 देशों ने वैक्सीन के लिए दिया ऑर्डर

 

 


 

रूस। आधिकारिक तौर पर कोरोना की वैक्सीन रजिस्टर करने वाला रूस दुनिया का पहला देश बन गया है। वैक्सीन का पहला डोज राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की बेटी को दिया गया। उन्हें दो डोज दिए गए। डोज देने के बाद शरीर के तापमान में बदलाव रिकॉर्ड किया गया। पुतिन के मुताबिक, पहली डोज देने पर उसके शरीर का तापमान 38 डिग्री था। वैक्सीन की दूसरी डोज दी गई तो तापमान 1 डिग्री गिरकर 37 डिग्री हो गया। लेकिन कुछ समय बाद दोबारा तापमान बढ़ा, जो धीरे-धीरे सामान्य हो गया।

 

रूस के स्वास्थ्य मंत्री मिखाइल मुराश्को के मुताबिक, दुनियाभर के 20 देशों ने हमारी वैक्सीन स्पुतनिक-वी के लिए प्री-आॅर्डर दिया है। रूस का डायरेक्ट इंवेस्टमेंट फंड वैक्सीन को बड़ी मात्रा में बनाने के लिए और विदेश में प्रमोट करने के लिए निवेश कर रहा है। रूसी वेबसाइट ने दावा किया है कि भारत, साऊदी अरब, इंडोनेशिया, फिलीपींस, ब्राजील, मैक्सिको जैसे देशों ने वैक्सीन को खरीदने की इच्छा जताई है।

 

दो बेटी में किसे लगा यह नहीं बताया

 

पुतिन की दो बेटियां हैं, मारिया और कैटरीना। वैक्सीन दोनों में से किसको लगी है पुतिन ने यह साफ नहीं किया है लेकिन उनका कहना है कि टीका लगने के बाद वह अच्छा महसूस कर रही है। उसमें काफी संख्या में एंटीबॉडीज बनी हैं। वैक्सीन कई तरह की जांच से गुजर चुकी है और यह सुरक्षित साबित हुई है।

 

भारत में तीसरे चरण का ट्रायल हो सकता है

 

रूसी वेबसाइट के मुताबिक, 2020 के अंत तक वैक्सीन के 20 करोड़ डोज तैयार किए जाने की योजना बनाई जा रही है। इनमें से 3 करोड़ डोज रूस अपने लिए रखेगा। वैक्सीन का उत्पादन सितम्बर में शुरू होगा। रूस तीसरे चरण का ट्रायल कई देशों में करने की योजना बना रहा है, इसमें सऊदी अरब, ब्राजील, भारत और फिलीपींस शामिल हैं।

 

पहले उपग्रह के नाम पर रखा वैक्सीन का नामकरण

 

रूस ने वैक्सीन का नामकरण अपनी पहले उपग्रह स्पुतनिक-वी के नाम पर किया है। इसे 1957 में लॉन्च किया गया था। रूस ने महीने भर पहले ही इस बात के संकेत दे दिए थे कि उनकी वैक्सीन ट्रायल में सबसे आगे है और वे उसे 10 से 12 अगस्त के बीच रजिस्टर्ड करा लेंगे। हालांकि इस वैक्सीन को लेकर अमेरिका और ब्रिटेन रूस पर भरोसा नहीं कर रहे। रूस पर वैक्सीन का फामूर्ला चुराने के आरोप भी लग रहे हैं।

 

बड़े स्तर पर तीन और ट्रायल इसी महीने होंगे

 

रूस के रक्षा मंत्रालय के मुताबिक, वैक्सीन ट्रायल के परिणाम सामने हैं। उनमें बेहतर इम्युनिटी विकसित होने के प्रमाण मिले हैं। दावा किया कि किसी वॉलंटियर्स में निगेटिव साइड-इफेक्ट देखने में नहीं आए। रूस ने दावा किया है कि उसने कोरोना की जो वैक्सीन तैयार की है वह क्लीनिकल ट्रायल में 100% तक सफल रही है। ट्रायल की रिपोर्ट के मुताबिक, जिन वॉलंटियर्स को वैक्सीन दी गई उनमें वायरस के खिलाफ इम्युनिटी विकसित हुई है।

Related Articles


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories